बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर एनडीए के घटक दलों में सीटों के बंटवारे को लेकर शनिवार को बीजेपी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा से मुलाकात की. बताया जा रहा है कि मुलाकात के दौरान सीट शेयरिंग पर बातची हुई है. वहीं, बीजेपी ने आश्वासन दिया है कि वह जेडीयू और एलजेपी के मतभेदों को दूर करेगी.

माना जा रहा है कि करीब आधे घंटे तक चली बैठक में दोनों दलों के नेताओं ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के घटक दलों के बीच सीटों की साझेदारी के मुद्दे पर चर्चा की. गठबंधन में रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) भी शामिल है.

ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी नेतृत्व ने कुमार को यह आश्वासन भी दिया है कि वह जेडीयू और लोजपा के बीच उपजे मतभेदों को दूर करने में दखल देगी. लोजपा के युवा अध्यक्ष चिराग पासवान ने हाल में जेडीयू के खिलाफ तीखे तेवर दिखाए थे.

राज्य में विधानसभा चुनावों का कार्यक्रम जल्द ही जारी होने की उम्मीद है. निर्वाचन आयोग ने संकेत दिये थे कि वह 29 नवंबर को खत्म हो रहे मौजूदा विधानसभा के कार्यकाल से पहले ही चुनाव प्रक्रिया पूरी करने का इच्छुक है.

इससे पहले कल शाम को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बिहार विधानसभा के लिये बीजेपी के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस ने जेडीयू और लोजपा के बीच कटुता कम करने का प्रयास करते हुए टिप्पणी की, “कोई भी एनडीए नहीं छोड़ने जा रहा, यद्यपि कई लोग हमारे साथ जुड़ेंगे.”

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने दोनों दलों के बीच उपजे मतभेदों को लेकर कहा कि यह “विविध विचारधाराओं के कारण ऐसा है और इसेलिये हम अलग-अलग राजनीतिक दल हैं लेकिन एक उद्देश्य के लिये एकजुट हैं.”

बिहार के दो दिवसीय दौरे पर कल शाम यहां पहुंचे नड्डा ने पुराने शहर में प्रसिद्ध पाटन देवी मंदिर में पूजा के साथ अपने दिन की शुरुआत की. इन्हीं देवी के नाम पर पटना शहर का नाम पड़ा है.

मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद नड्डा ने यहां पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में “आत्मनिर्भर बिहार अभियान” की शुरुआत की. इसके बाद वह मुजफ्फरपुर जनपद जाएंगे जहां महिला किसानों और लीची की खेती करने वालों से एक गांव में चर्चा करेंगे.