उत्तर प्रदेश में शनिवार को पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 38,055 नए मामले दर्ज किए गए हैं. इस दौरान राज्य में 23,231 लोग अस्पतालों से डिस्चार्ज किए गए हैं. उत्तर प्रदेश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 2,88,144 है. यूपी में पिछले 24 घंटे में 223 लोगों की मौत हुई है.

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से अब तक कुल 7,52,211 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि कुल 10959 लोगों की मृत्यु हुई है.

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया, "प्रदेश में कोरोना वायरस वैक्सीन की पहली डोज़ अब तक 96,79,557 लोगों को दी जा चुकी है. वैक्सीन की दूसरी डोज़ अब तक 19,43,675 लोगों को लगाई जा चुकी है. कल (23 अप्रैल) प्रदेश में 2,25,960 सैंपल्स की जांच की गई. अब तक प्रदेश में 3,95,40,989 सैंपल्स की जांच की गई है."

ये भी पढ़ें: दिल्ली HC ने कहा- Oxygen Supply में अड़चन पैदा करने वाले व्यक्ति को हम लटका देंगे

डॉक्टर की पर्ची दिखने पर मिलेगी ऑक्सीजन

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने बताया, "प्रदेश में ऑक्सीजन के लिए नियंत्रण कक्ष खोला गया है. जिसके माध्यम से अस्पतालों को कब, कहां, कितनी ऑक्सीजन जा रही है, इसकी निगरानी की जा रही है. ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है." उन्होंने ये भी कह, "मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया है कि डॉक्टर द्वारा दी गई दवा की पर्ची दिखाने पर ऑक्सीजन सिलेंडर दिया जाए ताकि होम आइसोलेशन में लोगों को परेशानी न हो."

ये भी पढ़ें: 18 वर्ष के ऊपर के लोग 1 मई से वैक्सीन लगवाने के लिए कैसे कराएं रजिस्ट्रेशन, यहां पढ़ें

खाली बेड की जानकारी दिन में दो बार सार्वजनिक हो: सीएम 

उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शनिवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिए गठित टीम-11 को निर्देश दिया कि आमजन को बिस्तर की उपलब्‍धता की समुचित जानकारी उपलब्‍ध कराई जाए और प्रदेश में ऐसे सभी अस्पताल जहां कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का इलाज हो रहा है, वहां रिक्त बेड का विवरण हर दिन दो बार सार्वजनिक किया जाए. 

ये भी पढ़ें: भारत में लगातार तीसरे दिन तीन लाख से अधिक नए कोरोना मरीज सामने आए