देश में COVID-19 वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के हाल में दिए गए बयान के बाद लोगों को उम्मीद है कि जल्द ही देश में वैक्सीन उपलब्ध होगी. हालांकि, इसकी निश्चित तारीख तय नहीं है. वहीं, सरकार भी वैक्सीन के भंडारण से लेकर लोगों तक खुराक पहुंचाने तक की व्यवस्था कर रही है. सरकार कोरोना वैक्सीन को ट्रैक करने के लिए ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर काम कर रही है.

देश में कोविड-19 के टीके के भंडार और भंडारण पर वास्तविक समय की जानकारी के लिए एक डिजिटल प्लेटफॉर्म का विस्तार किया जा रहा है, ताकि इसके उपलब्ध हो जाने पर कोविड-19 टीका प्रशासन और उसकी गतिविधियों को ट्रैक किया जा सके और टीके लगाने वाले के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण मॉड्यूल विकसित किए जा रहे हैं.

केंद्र सरकार ने मंगलवार को यह बात कही.

इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क पर काम चल रहा है. कोविड-19 टीका प्रशासन और खरीद और भंडारण से लेकर व्यक्तिगत लाभार्थियों तक इसके वितरण तक इसकी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए इस नेटवर्क को और व्यापक बनाया जा रहा है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को कहा था कि केंद्र सरकार द्वारा अगले साल जुलाई तक 40-50 करोड़ खुराक प्राप्त करने और उपयोग करने का अनुमान है, जिसमें 20-25 करोड़ लोगों को कवर किया जाएगा.