भारत बनाम इंग्लैंड सीरीज के चौथे टेस्ट मैच के दूसरे दिन कुछ ऐसा हुआ जो कुछ समय के लिए मजाकिया लेकिन बाद में उस हरकत पर गुस्सा आने लगा.  दरअसल मैच के दौरान एक व्यक्ति बीच मैदान में घुस कर खेल में रुकावट पैदा करने लगा जिसके बाद खिलाड़ियों की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है. मैदान में हड़कंप मचाने वाले इस व्यक्ति का नाम जार्वो है. जार्वो ने मौदान में घुस कर भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव की नकल उतारी और इंग्लैंड के क्रिकेटर जॉनी बेयरस्टो को धक्का भी दिया. इससे पहले के दो टेस्ट मैचों में भी जार्वो ने ऐसे ही मैदान में घुस कर रुकावट पैदा की भी.

यह भी पढ़ें: जेम्स एंडरसन की इस तस्वीर को देखकर उनसे नफरत करने वाला भी फैन बन जाए

ये तब हुआ जब इंग्लैंड की पारी के 34वें ओवर में भारत के उमेश यादव गेंदबाजी कर रहे थे.  तभी जार्वो पिच की ओर भागते हुए आ गए. जार्वो ने उमेश यादव की नकल उतारते हुए गेंदबाजी करने के अंदाज में हाथ घुमाया. जिसके साथ ही जार्वो ने नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े जॉनी बेयरस्टो को भी धक्का दे दिया. जार्वो की इस नादानी से खेल 5 मिनट तक रुका रहा.

इस पर इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने कहा है, ''पिच पर किसी भी तरह से जबरन घुसना स्वीकार नहीं किया जाएगा. जहां भी खिलाड़ियों की सुरक्षा की बात आएगी हम इसके खिलाफ कड़े कदम उठाएंगे.''

यह भी पढ़ें: ENGvIND: ओवल में पिछले 50 साल में जो न हो सका, वो करने पर उतारू है विराट ब्रिगेड

देखें वीडियो- 

‘ये खिलाड़ियों की सुरक्षा को खतरा है कोई मजाक नहीं’

इंग्लैंड और भारत के टेस्ट मैच के दौरान हुए इस वाक्या की वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर भी वायरल होने लगी. जिसके साथ ही लोग इंग्लैंड में खिलाड़ियों की सुरक्षा के इंतजाम पर तमाम सवाल उठा रहे हैं. इस पर मशहूर पत्रकार और कमेंटेटर हर्षा भोगले ने ट्वीट करते हुए लिखा, “ "मेरे ख्याल से इंग्लैंड के ग्राउंड में काम करने वाले कुछ लोगों की नौकरी जानी चाहिए. ये बहुत ही गंभीर सुरक्षा चूक है और ये बार-बार हो रही है. अब ये कोई मजाक नहीं है."

बता दें, इस सीरीज का पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था. जिसके बाद लॉर्ड्स टेस्ट को जीतकर भारत ने सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली थी. लेकिन इसके तुरंत बाद लीड्स टेस्ट में इंग्लैंड ने जीत हासिल की थी और सीरीज 1-1 से बराबर कर ली. फिलहाल सीरीज का चौथा टेस्ट मैच ओवल के मैदान पर खेला जा रहा है.

यह भी पढ़ें: सौरव गांगुली और एमएस धोनी में कौन था बेहतर कप्तान, जानिए वीरेंद्र सहवाग ने क्या कहा