जम्मू के बस स्टैंड के पास करीब 7 किलो IED बरामद किया गया. वहीं, पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है जो चंडीगढ़ के नर्सिंग कॉलेज का छात्र है. पुलिस ने बताया कि उन्हें पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर आतंकी योजना की खुफिया जानकारी मिली थी. इसके बाद सर्च ऑपरेशन में शनिवार रात को ही एक सख्स को गिरफ्तार किया गया. उसके पास से 6-6.5 किलो IED बरामद किया गया.

जम्मू पुलिस के आईजी मुकेश सिंह ने जानकारी दी है कि, शनिवार रात को हमने जम्मू बस स्टैंड से एक व्यक्ति को गिरफ़्तार किया. जिसके बैग से 6-6.5 किलो IED बरामद हुई. उसने बताया कि वह चंडीगढ़ के नर्सिंग कॉलेज का छात्र है. उसे पाकिस्तान के अल-बदर तंजीम से IED लगाने के निर्देश दिए गए थे.

'करीब 18 ताबूत खाली भिजवाने पड़े थे', पुलवामा हमले की बरसी पर इंडियन आर्मी का ये Video आंखे नम कर देगा

पुलिस ने बताया कि, गिरफ्तार शख्स का नाम सोहेल है. वह चंडीगढ़ में पढ़ता है और उसे पाकिस्तान के अल बद्र तन्जेम से आईईडी प्लांट करने का संदेश मिला था. उसे IED लगाने के लिए 3-4 जगह बताई गई थी, जिसमें रघुनाथ मंदिर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और लखदाता बाजार शामिल थे. इनमें से किसी एक जगह पर उसको IED रखना था. इससे काफी बड़ा धमाका हो सकता था जिसे जम्मू पुलिस ने नाकाम कर दिया.

अधिकारियों ने बताया कि आईईडी की बरामदगी से कुछ दिन पहले ही जम्मू के कुंजवानी और सांबा के बारी ब्राह्मना से दो शीर्ष आतंकवादियों की गिरफ्तारी की गई थी.

अक्षय कुमार और गौतम गंभीर सहित इन Indian Celebrities ने पुलवामा अटैक में शहीदों को किया याद, कही ये बात

गौरतलब है कि 'द रिज़िस्टन्स फ्रंट ' (टीआरएफ) के शीर्ष आतंकवादी जहूर अहमद राठेर को शनिवार को सांबा के बारी ब्राह्मना से गिरफ्तार किया गया. वह पिछले साल भाजपा के तीन नेताओं और एक पुलिस कर्मी की हत्या के सिलसिले में वांछित था.

इससे पहले छह फरवरी को पुलिस ने लश्कर-ए-मुस्तफा के स्वयंभू कमांडर हिदायतुल्लाह मलिक उर्फ हसनैन को जम्मू के कुंजवानी से गिरफ्तार किया था.

14 फरवरी 2019 को पाकिस्तान प्रायोजित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमला कर दिया था जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे.

पुलवामा हमले की बरसी: Omar Abdullah बोले- मुझे और मेरे पिता Farooq Abdullah को नजरबंद किया गया