नयी दिल्ली, 28 अप्रैल (भाषा) दक्षिणी दिल्ली में आईटीबीपी द्वारा संचालित कोविड देखभाल केंद्र में ऑक्सीजन की सुविधा वाले कुल 500 बेड में से बुधवार तक आधे पर ही मरीजों की भर्ती हुई है।

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) ने कहा है कि ऑक्सीजन आपूर्ति से जुड़े मुद्दों के कारण इस केंद्र में ‘सीमित’ मरीजों की भर्ती हुई है।

अर्द्धसैन्य बल ने कहा है कि इस केंद्र में भर्ती के लिए कई मरीज गुहार लगा रहे हैं और उसने दिल्ली सरकार से ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने का अनुरोध किया है ताकि और मरीजों को यहां उपचार मिल सके।

छतरपुर इलाके में राधा स्वामी व्यास में स्थित सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर (सीपीसीसीसी) के उपलब्ध ताजा आंकड़ों के मुताबिक 26 अप्रैल को शुरुआत के बाद से यहां पर 228 मरीज भर्ती किए गए। बुधवार को इस केंद्र में 52 मरीज भर्ती किए गए। भर्ती किए गए कुल मरीजों में 156 पुरूष और 72 महिलाएं हैं।

आंकड़ों के मुताबिक कुल 211 बेड पर मरीज हैं। अब तक नौ मरीजों को छुट्टी मिल चुकी है। वहीं तीन मरीजों को दूसरे अस्पतालों में भेज दिया गया जबकि भर्ती के बाद 11 मरीजों की मौत हो गयी।

अर्द्धसैन्य बल ने मंगलवार रात एक बयान में कहा था कि भर्ती किए गए तकरीबन सभी मरीजों को निर्बाध ऑक्सीजन की जरूरत है।

अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली सरकार ने इस केंद्र में मरीजों की भर्ती के लिए जिला निगरानी अधिकारी (डीएसओ) की मंजूरी की जरूरी प्रक्रिया को खत्म करने को लेकर कोई आदेश जारी नहीं किया है लेकिन कुछ मरीजों को उनकी हालत के मद्देनजर भर्ती करने की अनुमति दे दी गयी।

दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में तेज बढ़ोतरी के मद्देनजर इस केंद्र की शुरुआत की गयी।