कच्चा तेल की अंतरराष्ट्रीय दरों में वृद्धि के बीच देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में सोमवार को लगातार सातवें दिन बढ़ोतरी हुई. इससे देश में ईंधन की खुदरा कीमतें नये उच्च स्तर पर पहुंच गयीं. दिल्ली में पेट्रोल 89 रुपये पर पहुंच गया, जबकि राजस्थान में यह शतक मारने की दहलीज पर जा पहुंचा है.

सरकारी तेल विपणन कंपनियों की कीमत अधिसूचना के अनुसार, सोमवार को पेट्रोल की कीमत में 26 पैसे प्रति लीटर और डीजल में 29 पैसे प्रति लीटर की वृद्धि हुई. इससे दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 88.99 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में अब तक की सबसे ऊंची दर 95.46 रुपये प्रति लीटर हो गयी. डीजल की दर दिल्ली में 79.35 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 86.34 रुपये हो गयी.

यह भी पढ़ें-Petrol and diesel prices: पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर बढ़ोतरी, जानें क्या है आज की कीमत

देश में ईंधन पर सबसे अधिक मूल्य वर्धित कर (वैट) वसूलने वाले राज्य राजस्थान में पेट्रोल और डीजल की कीमतें सबसे अधिक हैं. राज्य के श्रीगंगानगर शहर में पेट्रोल 99.56 रुपये और डीजल 91.48 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गया. राजस्थान सरकार ने पिछले महीने पेट्रोल और डीजल पर वैट में दो फीसदी की कटौती की थी. राज्य में पेट्रोल पर सबसे अधिक 36 प्रतिशत वैट लगता है और इसके अलावा 1,500 रुपये प्रति किलोलीटर की दर से सड़क उपकर भी लगता है. डीजल पर राज्य में 26 प्रतिशत वैट और 1,750 रुपये प्रति किलोलीटर की दर से सड़क उपकर लगता है.

रविवार को ब्रांडेड यानी एडिटिव मिश्रित पेट्रोल ने महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में कुछ स्थानों पर 100 रुपये का आंकड़ा पार कर लिया था. श्रीगंगानगर में ब्रांडेड पेट्रोल की कीमत 102.34 रुपये प्रति लीटर और इसी तरह के ग्रेड डीजल की कीमत 95.15 रुपये प्रति लीटर थी.

यह भी पढ़ें- पेट्रोल के दाम बढ़ने पर मायावती ने साधा केंद्र पर निशाना, बोलीं-इस मुद्दे पर सरकार का चुप रहना है दुखद