नयी दिल्ली 22 मई (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ़ इंडिया (पीजीसीआईएल) ने कहा कि उसके बोर्ड ने विभिन्न बिजली पारेषण परियोजनाओं को लेकर कुल 2,202 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दे दी है।

पीजीसीआईएल ने शनिवार को शेयर बाजार को दी सूचना में बताया कि निदेशक मंडल और निदेशकों की समिति ने 21 मई को आयोजित अलग-अलग बैठकों में विभिन्न पारेषण परियोजनाओं में निवेश की मंजूरी दी।

कंपनी ने कहा, ‘‘निदेशक मंडल ने चरण-दो और भाग बी के अंतर्गत राजस्थान में सौर ऊर्जा क्षेत्रों से बिजली की निकासी परियोजना में निवेश मंजूरी को स्वीकृति दे दी हैं। इस परियोजना की लागत 1,184.88 करोड़ रुपये आएगी। परियोजना को चरणबद्ध तरीके से दिसंबर 2021 से सितम्बर 2022 के बीच शुरू किया जाएगा।’’

उसने बताया कि बॉर्ड ने नार्थ ईस्टर्न रीजन स्ट्रेंग्थेनिंग स्कीम 12 (एनइआरएसएस-12) में भी निवेश की मंजूरी दे दी गई है और इसकी अनुमानित लागत 576.42 करोड़ रुपये है। यह परियोजना मार्च 2023 में शुरू की जायेगी।

इसके अलावा निदेशकों की समिति ने नेशनल ट्रांसमिशन एसेट मैनेजमेंट सेंटर (एनटीएएमसी) के लिए समर्पित एक विशेष दूरसंचार नेटवर्क के निर्माण को भी मंजूरी दे दी है। केंद्र के लिए दूरसंचार उपकरणों की खरीद की अनुमानित लागत 117.29 करोड़ रुपये है।

भाषा जतिन माधव

माधव

माधव