प्रेस इनफॉरमेशन ब्यूरो (PIB) ने फेक न्यूज के खिलाफ अभियान चल रही है, जिसमें पीआईबी ने अमरीश पुरी की दो तस्वीरों के सहारे फेक न्यूज शेयर करने वालों पर तंज कसा है.

बता दें सरकार की ओर से फेक न्यूज पकड़ने को लेकर PIB अभियान चला रही है. पीआईबी सरकार के सभी कार्यक्रमों, योजनाओं की प्रेस रिलीज बनाते हैं, उनको मीडिया में कैसे जगह मिलती है उसका ध्यान रखते हैं और हर सरकारी जानकारी सही तरीके से निजी मीडिया को मिले, उसकी गुणवत्ता का भी ध्यान रखते हैं.

सरकारी योजनाओं की खबरों को लेकर कई बार सोशल मीडिया पर फेक न्यूज चलाए जाते हैं. ऐसे में पीआईबी इन फेक न्यूज का खंडन करने का काम करती है. पीआईबी ने इसके लिए फेक न्यूज के खिलाफ फैक्ट चेक टीम बनाई है.

पीआईबी ने 20 अक्टूबर को एक ट्वीट पोस्ट किया, जिसमें फेक न्यूज को लेकर अमरीश पुरी की दो तस्वीरें पोस्ट की. इन तस्वीरों के जरिए पीआईबी ने फेक न्यूज शेयर करने वालों पर तंज कसा है.

पीआईबी पोस्ट में अमरीश पुरी की दो तस्वीर है, जिसमें एक उनका चौंकाने वाला चेहरा है और उसके साथ लिखा है. ‘मैं उस वक्त, जब मुझे कोई वॉट्सऐप पर मिलने वाले सारे मैसेज को फॉरवर्ड कर देता है’ वहीं, दूसरी तस्वीर में मुसकुराते हुए चेहरे के साथ लिखा है. ‘मैं उस वक्त, जब कोई फैक्ट्स चेक करने के बाद शेयर करता है’.