प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल के आईसीयू वार्ड में आग लगने की घटना पर दु:ख जताया और हताहत हुए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना जताई. प्रधानमंत्री ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और अहमदाबाद की मेयर बिजल पटेल से इस सिलसिले में बात भी की और हालात का जायजा लिया.

पीएमओ ने पीड़ितों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है. प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50 हजार रुपये की सहायता देने की घोषणा की गई है.

अहमदाबाद में नवरंगपुर इलाके के श्रेय अस्पताल के आईसीयू वार्ड में बृहस्पतिवार तड़के आग लग गई, जिसमें आठ मरीजों की मौत हो गई। यह अस्पताल कोविड-19 के मरीजों के उपचार के लिए चिह्नित है.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अहमदाबाद के अस्पताल में हुई आग की दु:खद घटना से मन व्यथित हो गया। शोकसंतप्‍त परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’’ उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रूपाणी और मेयर पटेल से बात कर उन्होंने वर्तमान स्थिति की जानकारी ली. उन्होंने कहा, ‘‘प्रशासन की ओर से प्रभावित लोगों को हरसंभव सहायता पहुंचाई जा रही है.’’

स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक अस्पताल में कोविड-19 के करीब 40 अन्य मरीजों को बचा लिया गया और उन्हें शहर के एक अन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है.