प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को दो दिवसीय दौरे पर अहमदाबाद पहुंचे. उन्होंने गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल और गुजराती सिनेमा के सुपरस्टार नरेश कनोडिया व उनके संगीतकार भाई महेश कनोडिया को श्रद्धांजलि अर्पित की तथा उनके परिजनों को सांत्वना दी.

पटेल (92) का बृहस्पतिवार की सुबह यहां निधन हो गया था. वह लंबे समय से बीमार थे. कनोडिया बंधुओं का हाल ही में निधन हो गया था. इससे पहले प्रधानमंत्री दो दिवसीय दौरे पर आज सुबह अहमदाबाद पहुंचे. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, राज्यपाल आचार्य देवव्रत और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सी आर पाटिल सहित कई नेताओं ने हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री का स्वागत किया.

प्रधानमंत्री हवाई अड्डे से सीधे केशुभाई को श्रद्धांजलि देने गांधीनगर पहुंचे. वहां उन्होंने उनके परिवार के सदस्यों के साथ कुछ समय बिताया और परिजनों से बात भी की. मोदी के जाने के बाद परिवार के एक सदस्य ने बताया, ‘‘मोदीजी ने केशुभाई के साथ बिताए दिनों को याद किया और हमसे उनके अंतिम क्षणों के बारे में पूछा.’’

प्रधानमंत्री ने बृहस्पतिवार को केशुभाई के निधन पर गहरा शोक प्रकट करते उन्हें ‘‘पितातुल्य’’ बताया था और कहा था कि उनका जाना उनके लिए ऐसी क्षति है, जो कभी पूरी नहीं हो पाएगी. इसके बाद प्रधानमंत्री ने कनोडिया बंधुओं को श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके परिजनों को सांत्वना दी. नरेश और महेश कनोडिया भाजपा से भी जुड़े थे और क्रमश: सांसद व विधायक रह चुके हैं. उम्मीद की जा रही है कि प्रधानमंत्री अपने इस दौरे पर अपनी मां हीरा बा से भी मुलाकात करेंगे.

मार्च में कोरोना वायरस महामारी फैलने के बाद से मोदी का अपने गृह राज्य गुजरात का यह पहला दौरा है. इस दौरान उनका केवडिया और अहमदाबाद के बीच समुद्री विमान सेवा सहित कई परियोजनाओं की शुरुआत करने का भी कार्यक्रम है. नर्मदा जिले के केवडिया में वह सरदार पटेल जूलॉजिकल पार्क ‘जंगल सफारी’ का उद्घाटन करेंगे, जो भारत के ‘लौह पुरुष’ की 182 मीटर लंबी प्रतिमा ‘‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’’ के पास स्थित है.

इसके बाद वह अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे. मोदी अपनी यात्रा के दौरान स्वतंत्र भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को 31 अक्टूबर को उनकी जयंती के दिन ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ जाकर श्रद्धांजलि भी अर्पित करेंगे.