देश की आजादी के लिए लड़ी जा रही जंग के दौरान चौरी-चौरा की घटना ऐतिहासिक है. इस घटना के 100 साल पूरे होने पर शताब्दी समारोह की शुरुआत की गई है. इस समारोह में पीएम मोदी ने भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए. इस मौक पर पीएम मोदी ने कहा, चौरी चौरा घटना में किसानों की सबसे बड़ी भूमिका थी. इसे एक मात्र मामूली आगजनी के संदर्भ में ही देखा गया, लेकिन आगजनी किन परिस्थितियों में हुई, क्या वजह थी, ये भी उतनी ही महत्वपूर्ण है.

रामपुर जा रही प्रियंका के काफिले की गाड़ियां आपस में टकराई, हापुड़ के पास हादसा

पीएम मोदी ने कहा, 100 वर्ष पहले चौरी चौरा में जो हुआ वो सिर्फ एक आगजनी की घटना, एक थाने में आग लगा देने की घटना नहीं थी, चौरी चौरा का संदेश बहुत बड़ा था, बहुत व्यापक था. अनेक वजहों से पहले जब भी चौरी-चौरा की बात हुई उसे एक मात्र मामूली आगजनी के संदर्भ में ही देखा गया, लेकिन आगजनी किन परिस्थितियों में हुई, क्या वजह थी, ये भी उतनी ही महत्वपूर्ण है.

आग थाने में नहीं लगी थी, आग जन-जन के दिलों में प्रज्ज्वलित हो चुकी थी. आज से शुरू हो रहे ये कार्यक्रम पूरे साल आयोजित किए जाएंगे. इस दौरान चौरी-चौरा के साथ ही हर गांव, हर क्षेत्र के वीर बलिदानियों को भी याद किया जाएगा.

प्रधानमंत्री ने सामूहिकता पर बल देते हुए कहा, सामूहिकता की जिस शक्ति ने गुलामी के बेड़ियों को तोड़ा था, वही शक्ति भारत को दुनिया की बड़ी ताकत भी बनाएगी. सामूहिकता की यही शक्ति आत्मनिर्भर भारत अभियान का मूलभूत आधार है.

गाजीपुर बॉर्डर पर विपक्षी सांसदों को किसानों से मिलने से रोका गया

उन्होंने कहा, हमारे देश की प्रगति का सबसे बड़ा आधार हमारे किसान भी रहे हैं. चौरी-चौरा संग्राम में हमारे किसानों की सबसे बड़ी भूमिका थी, किसान आगे बढ़ें, आत्मनिर्भर बने इसके लिए पिछले 6 सालों में किसानों के लिए लगातार प्रयास किए गए हैं.

कोरोना की बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, महामारी की चुनौतियों के बीच भी हमारा कृषि क्षेत्र मजबूती से आगे बढ़ा और किसानों ने रिकॉर्ड उत्पादन करके दिखाया. हमारा किसान अगर और सशक्त होगा, तो कृषि क्षेत्र की प्रगति और तेज होगी. कोरोना काल में भारत ने दुनिया के 150 से ज्यादा देशों के नागरिकों की मदद के लिए दवाइयां भेजी. भारत ने दुनिया के अलग अलग देशों से अपने 50 लाख से अधिक नागरिकों को स्वदेश लाने का काम किया. भारत मानव जीवन की रक्षा के लिए दुनिया भर को वैक्सीन पहुंचा रहा है. तो हमारे स्वतंत्रता सेनानियों की आत्मा को गर्व महसूस होता होगा.

LPG Cylinder Price: घरेलू गैस सिलिंडर की दाम बढ़ाई गई, जानें नई कीमत

वहीं, बजट की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा, इस बजट में देशवासियों पर कोई बोझ नहीं बढ़ाया गया. बल्कि देश को आगे बढ़ाने के लिए सरकार ने ज़्यादा से ज़्यादा खर्च करने का फैसला लिया है. ये खर्च देश में चौड़ी सड़के बनाने के लिए होगा, नई बसें और रेल चलेगी, युवाओं को ज़्यादा अच्छे अवसर मिले उसके लिए बजट में अनेक फैसले लिए हैं.

ग्रामीण क्षेत्र के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर फंड को बढ़ाकर 40,000 करोड़ रुपये किया गया है. इसका सीधा लाभ देश के किसान हो होगा. ये सभी फैसले हमारे किसान को आत्मनिर्भर बनाएंगे, कृषि को लाभ का व्यापार बनाएंगे.