नोएडा, 22 मई (भाषा) ब्लैक फंगस बीमारी को लेकर गौतम बुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। पुलिस कमिश्नरेट में तैनात 436 पुलिसकर्मी अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और कोविड के मरीजों में ब्लैक फंगस की आशंका अधिक होने के कारण उनकी स्वास्थ्य स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है।

पुलिस कमिश्नरेट में संक्रमित कर्मियों में से 289 पुलिसकर्मी ठीक हो गए हैं,जबकि 147 पुलिसकर्मियों का अस्पताल तथा घर में एकांतवास में उपचार चल रहा है।

पुलिस उपायुक्त मुख्यालय/ लाइन मीनाक्षी कात्यायन ने बताया कि गौतम बुद्ध नगर में तैनात 436 पुलिसकर्मी अब तक वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। उन्होंने बताया कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के ब्लैक फंगस बीमारी की चपेट में आने की आशंका अधिक है इसलिए पुलिस कमिश्नरेट गौतम बुद्ध नगर ने कोविड-19 के उपचार के दौरान ठीक हुए पुलिसकर्मियों तथा उपचार करा रहे पुलिसकर्मियों में ब्लैंक फंगस बीमारी ना फैले, इसके लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

उन्होंने बताया कि उपचार के दौरान ठीक हुए मरीजों में यह बीमारी ज्यादा फैल रही है। इस बात को ध्यान में रखकर संक्रमित मरीजों की मदद के लिए बनाई गई हेल्पलाइन टीम द्वारा उनसे लगातार संपर्क किया जा रहा है।

कात्यायन ने बताया कि हेल्पलाइन टीम द्वारा पुलिस कर्मियों को बताया जा रहा है, कि वे किस तरह से अपना ध्यान रखें तथा अगर उन्हें ब्लैक फंगस बीमारी के संक्रमण का शक होता है, तो तुरंत अपने अधिकारियों को बताएं, ताकि उनका उचित उपचार करवाया जा सके।

डीसीपी ने बताया कि पुलिसकर्मियों के संक्रमित परिजन से भी संपर्क किया जा रहा है, ताकि वे भी इस बीमारी की चपेट में न आएं।

उन्होंने कहा कि अगर कोई पुलिसकर्मी इस फंगस का शिकार होता है, तो उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती करवा कर उसका उपचार करवाया जाएगा।