उत्तर प्रदेश के उन्नाव में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई थी, जिसमें तीन लड़कियों को बंधक बनाया गया था. उनमें से दो लड़कियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. इस मामले में पड़ोस के गांव के निवासी एक युवक और उसके एक नाबालिग साथी को गिरफ्तार किया गया है.

लखनऊ रेंज की पुलिस महानिरीक्षक लक्ष्मी सिंह ने शुक्रवार को बताया कि उन्नाव जिले में असोहा इलाके के बबुरहा गांव के बाहर दो किशोरियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में पड़ोस के गांव पाठकपुर के निवासी युवक विनय और उसके एक नाबालिग साथी को गिरफ्तार किया गया है.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में COVID-19 के मामले बढ़ने के बाद विशेषज्ञों ने दी नए स्ट्रेन की चेतावनी, सरकार भी सख्त

उन्होंने बताया कि यह वारदात एकतरफा प्रेम प्रसंग को लेकर हुई. इसमें लड़कियों को पानी में कीटनाशक मिलाकर पिलाया गया था.

लक्ष्मी ने कहा कि विनय मृत लड़कियों में से एक से एकतरफा प्रेम करता था और उसने उसके सामने प्रेम प्रस्ताव रखा था, जिसे लड़की ने ठुकरा दिया था. इसके बाद वह उसके प्रति दुर्भावना रखने लगा था.

पूछताछ में विनय ने बताया लॉकडाउन के समय से 3 बच्चियों में से 1 के साथ उसकी अच्छी दोस्ती हो गई, उसे इस बच्ची से प्रेम हो गया.

गौरतलब है कि असोहा थाना इलाके के बबुरहा गांव में गत 17 फरवरी की शाम खेतों पर घास लेने गईं तीन दलित किशोरियों के एक खेत में संदिग्‍ध अवस्‍था में बेसुध पाए जाने के बाद उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था. चिकित्‍सकों ने इनमें से कोमल (15) और काजल (14) को मृत घोषित कर दिया था, जबकि रोशनी (16) की हालत गंभीर देखकर उसे उन्‍नाव अस्‍पताल ले जाया गया तथा बाद में कानपुर में रेफर कर दिया गया.

ये भी पढ़ेंः लालू यादव को क्यों नहीं मिली जमानत, जानें पूरा मामला