अगर आपने भविष्य निधि यानी पीपीएफ (पब्लिक प्रोविडेंट फंड) खोल लिया है तो इसमें हर महीने सही समय पर पैसा जमा करना चाहिए वरना आपको इसका नुकसान हो सकता है. यह सबसे लोकप्रिय है जिसमें इनकम टैक्स एक्ट की धारा 80C के अंतर्गत सेविंग में छूट मिलती है. इसके साथ ही बचत पर कमाए गए ब्याज पर कोई भी टैक्स नहीं लगता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि PPF का ज्यादा फायदा आपको 5 तारीख से पहले पैसा जमा करने पर मिलता है? 

यह भी पढ़ें- क्या EPFO पर नौकरी छोड़ने की तारीख अपडेट करने में आ रही है दिक्कत? इन आसान स्टेप्स में समझें

5 तारीख से पहले PPF में डिपॉजिट के फायदे

पीपीएफ में डिपॉजिट को लेकर एक्सपर्ट्स कहते हैं कि PPF Account में हर महीने की 5 तारीख से पहले पैसा जमा कराने के कई लाभ होते हैं. पीपएफ जमा पर ब्याज की गणना हर महीने की जाती है और यह ब्याज 5 तारीख से लेकर महीने की अंतिम तारीख के बीच जमा राशि पर तय की जाती है. ऐसे में अगर आप 5 तारीख से पहले पैसा जमा करते हैं तो आपको ज्यादा ब्याज मिल सकता है.

1. पीपीएफ पर ब्याज का कैलकुलेशन 5 तारीख से महीने के अंत तक जमा न्यूनतम बैलेंस पर होता है. पीपीएफ जमा पर ब्याज हर महीने कैलकुलेट करते हैं लेकिन वित्त वर्ष के अंत में ही इसे क्रेडिट दे दिया जाता है.

2. मंथली इनवेस्मेंट के लिए आपको पीपीएफ खाते में हर महीने की 5वीं तारीख से पहले पैसे डाल देने चाहिए, इससे आपको ब्याज ज्यादा मिलेगा.

3. 5 अप्रैल से पहले पीपीएफ खाते में 1.5 लाख रुपये डालने से उसपर 8 प्रतिशत ब्याज मिलता है और यह दर हर तीन महीने पर सरकार तय करती है.

4. अप्रैल के ब्याज का कैलकुलेसन 5 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच मिनिमम बैलेंस पर होता है. क्योंकि आपने 5 अप्रैल से पहले 1.5 लाख रुपये इनवेस्ट किया है तो साल के दौरान कोई और जमा नहीं किया इसलिए ब्याज (1.5x8%)/12= 1,000 रुपये होगा.

यह भी पढ़ें- मात्र 9 रुपये में पाएं LPG गैस सिलेंडर, फटाफट उठाएं मौके का फायदा, जानें कैसे?

5. अगर आप अपने पीपीएफ अकाउंट में 500 रुपये का भी निवेश करते हैं तो अकाउंट चालू रहेगा और आपको फायदा मिलता रहेगा.

6. इसमें जमा की गई राशि को अगर आप चाहें तो 15 सालों के बाद पूरा पैसा ब्याज के साथ निलाका जा सकता है लेकिन जरूरी ना हो तो से 20 साल में निकालें इसका फायदा आपको उस समय ज्यादा अच्छे से समझ आएगा.

7. पीपीएफ खाते पर 7.1 फीसदी ब्याज दिया जा राह है और इसमें आप सिंगल के अलावा ज्वाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं. खाते में नॉमिनी बनाने की सुविधा भी इसमें है. पीपीएफ अकाउंट को आप चाहें तो बैंक से पोस्ट ऑफिस में या पोस्ट ऑफिस से बैंक में पैसों को ट्रांसफर कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें- क्या आप कराना चाहते हैं फिक्स्ड डिपॉजिट (FD)? यहां जानें कौन सा बैंक कितना दे रहा ब्याज