बिग बॉस 13 के विनर और टीवी इंडस्ट्री के जाने माने चेहरे सिद्धार्थ शुक्ला (Sidharth Shukla) का गुरुवार को निधन हो गया और शुक्रवार को वह पंचतत्व में विलीन हो गए. सिद्धार्थ का अचानक दुनिया को अलविदा कह जाना कई लोगों के लिए हैरान कर देने वाला है. उनके कई चाहने वालों को इससे गहरा सदमा लगा है. सिद्धार्थ शुक्ला एक बेहतरीन अभिनेता तो थे ही इसके साथ ही उनका दिल भी काफी बड़ा था. सिद्धार्थ शुक्ला के अकस्मात निधन के बाद दिवंगत अभिनेत्री प्रत्युषा बनर्जी (Pratyusha Banerjee) के पिता शंकर बनर्जी ने बताया कि सिद्धार्थ ने लॉकडाउन में उनके परिवार की मदद की थी.

यह भी पढ़ेंसिद्धार्थ शुक्ला को याद कर टूटीं रश्मि देसाई, तस्वीरें शेयर कर लिखा- मैं कुछ कहने की स्थिति में नहीं

टीवी के कुछ सबसे लोकप्रिय सीरियल में से एक 'बालिका वधू' में सिद्धार्थ शुक्ला के अभिनय को लोगों ने खूब पसंद किया था. इस शो में उनकी को-स्टार रहीं प्रत्युषा बनर्जी का भी साल 2016 में निधन हो गया था. प्रत्युषा बनर्जी के पिता शंकर बनर्जी ने एक इंटरव्यू में कहा कि सिद्धार्थ शुक्ला लगातार उनके संपर्क में थे और लॉकडाउन के दौरान उन्हें पैसे भेज कर मदद कर रहे थे.

शंकर बनर्जी ने आगे कहा, “मुझे पता नहीं यह कैसे हो गया. वह मेरे बेटे जैसा था. बालिका वधू के दौरान सिद्धार्थ और प्रत्युषा बहुत अच्छे दोस्त हो गए थे. वह हमारे घर भी आता था. प्रत्युषा के निधन के बाद कई लोग मेरी बेटी और सिद्धार्थ के रिश्ते को लेकर बातें बनाने लगे थे. इसके चलते सिद्धार्थ ने घर आना बंद कर दिया था. वह मुझसे अक्सर मैसेज पर हाल पूछा करता था.”

यह भी पढ़ें: Video: जब शहनाज गिल ने सिद्धार्थ शुक्ला से कहा था- 'तू मेरा है, मेरा ही रहेगा'

उन्होंने आगे कहा, “इस लॉकडाउन में सिद्धार्थ लगातार हमारे हाल-चाल पूछता रहा. मुझे उनका आखिरी मैसेज कुछ महीने पहले मिला था. वह मैसेज में पूछता था कि अंकल और आंटी क्या मैं आपकी मदद कर सकता हूं? क्या आप लोग ठीक हो?उसने एक बार जबरदस्ती 20,000 रुपये भेज दिए थे.”

बता दें, सिद्धार्थ की परवरिश उनकी मां और दो बड़ी बहनों ने की थी. शायद यही वो वजह रही होगी कि सिद्धार्थ महिलाओं की काफी इज्जत करते थे. उन्होंने एक बार ट्वीट करते हुए लिखा था, “अपने चरित्र को इस तरह से विकसित करें कि अंधेरे से भरे कमरे में भी कोई महिला आपके साथ सुरक्षित महसूस करें.” 

यह भी पढ़ें: बेसुध हाल में हैं शहनाज गिल, 'सिद्धार्थ-सिद्धार्थ' चिल्लाकर श्मशान की तरफ दौड़ीं, देखें तस्वीर