नयी दिल्ली, 25 मई (भाषा) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को बुद्ध पूर्णिमा की पूर्व संध्या पर लोगों को शुभकामनाएं दीं और देश के कोविड-19 महामारी से सफलतापूर्वक बाहर निकलने की प्रार्थना की।

उन्होंने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी के रूप में हमारे सामने अभूतपूर्व संकट है। बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर, मैं प्रार्थना करता हूं कि हमारी एकजुटता और सामूहिक प्रयास के माध्यम से हम इस महामारी से सफलतापूर्वक बाहर निकलें और लोगों के कल्याण के रास्ते पर आगे बढ़ते रहें।’’

बुद्ध पूर्णिमा की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में कोविंद ने कहा कि भगवान बुद्ध की शिक्षा ने हमें दुख और तकलीफों से बाहर निकलने का रास्ता दिखाया है।

राष्ट्रपति ने कहा कि उन्होंने हमें हिंसा और अन्याय से दूर रहना सिखाया और यही मंत्र सदियों से हमें आदर्श मानव बनने के लिए प्रेरित कर रहा है।

कोविंद ने कहा कि अहिंसा, शांति, दया और मानवता की सेवा का विचार भगवान बुद्ध के जीवन में कूट-कूट कर भरा है और उनके उपदेशों ने पूरी दुनिया में मानव सभ्यता के विकास को बड़े पैमाने पर प्रभावित किया है।

उन्होंने कहा, ‘‘बुद्ध पूर्णिमा के शुभ अवसर पर मैं सभी साथी नागरिकों और दुनिया भर में भगवान बुद्ध के अनुयायियों को शुभकामनाएं देता हूं।’’

भाषा अर्पणा नरेश

नरेश