व्हाइट हाउस के पास गोलीबारी की घटना के बाद अमेरिकी इंटलिजेंस सर्विस के एजेंट राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को कोरोना वायरस पर चल रहे एक प्रेस ब्रीफिंग के बीच से सुरक्षित स्थान पर ले गए. सोमवार को हुई इस घटना के कुछ देर बाद ही ट्रम्प प्रेस ब्रीफिंग में लौट आए और कहा कि सब नियंत्रण में है.

ट्रम्प ने संवाददाता सम्मेलन दोबारा शुरू करते हुए कहा,‘‘ व्हाइट हाउस में सब नियंत्रण में है. हमेशा त्वरित और प्रभावी कार्रवाई करने के लिए मैं गुप्तचर सेवा का शुक्रिया अदा करता हूं. यहां गोलीबारी हुई थी और किसी को अस्पताल ले जाया गया है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे उस व्यक्ति की हालत की जानकारी नहीं है. ऐसा प्रतीत होता है कि उस व्यक्ति को गुप्तचर सेवा के कर्मी ने गोली मारी. हम देखते हैं क्या हुआ है.’’

ट्रम्प के व्हाइट हाउस में जेम्स ब्रैडी संवाददाता सम्मेलन कक्ष में पत्रकारों से बातचीत शुरू करते ही यह घटना हुई. राष्ट्रपति NASDAQ और अर्थव्यवस्था पर बात कर ही रहे थे , तभी इंटलिजेंस सर्विस का एक शीर्ष एजेंट वहां आया और उनसे संवाददाता सम्मेलन से चलने का आग्रह किया.

एजेंट को ट्रम्प के कान में कुछ कहते देखा गया, जिसके बाद राष्ट्रपति बिना हड़बड़ाये आराम से वहां से चले गए. ट्रम्प ने बाद में पत्रकारों को बताया कि उन्हें ओवल कार्यालय ले जाया गया था.

संवाददाता सम्मेलन में ट्रम्प के साथ वित्त मंत्री स्टीवन म्नुचिन भी मौजूद थे. ट्रम्प के वहां से जाने के थोड़ी देर बाद इंटलिजेंस सर्विस ने ट्वीट कर घटना की पुष्टि की थी.

उसने ट्वीट किया, ‘‘एक व्यक्ति तथा इंटलिजेंस सर्विस के एक अधिकारी को अस्पताल ले जाया गया है. कानून प्रवर्तन अधिकारी घटनास्थल पर हैं. घटना के दौरान व्हाइट हाउस परिसर में घुसने की कोई कोशिश नहीं हुई’’