भोपाल, 19 अप्रैल (भाषा) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को मध्य प्रदेश को ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं का हरसंभव योगदान देने का आश्वासन दिया है।

वहीं, केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य में स्थित सैन्य अस्पतालों की सेवाएं संक्रमण काल के दौरान जनता के लिए खोलने का आश्वासन दिया है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘कोरोना संक्रमण की रोकथाम के संबंध में आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और (केन्द्रीय) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर चर्चा की।’’

उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश को ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं अन्य समस्त स्वास्थ्य सुविधाओं में हरसंभव योगदान देने का आश्वासन दिया।’’

चौहान ने आगे लिखा, ‘‘रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से आर्मी अस्पतालों के सामान्य प्रयोग को लेकर चर्चा की। उन्होंने आश्वासन दिया कि मध्य प्रदेश स्थित आर्मी अस्पतालों की सेवाएं संक्रमण काल के दौरान जनता के लिए खोली जायेंगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आज (सोमवार) आर्मी के उच्च अधिकारियों से मिल कर चर्चा भी करूंगा।’’

चौहान ने कहा कि आज दोपहर 12 बजे प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों से संवाद करूंगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी बड़े महानगरों में सरकार, स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से 2000 बिस्तर के अस्पताल खोलेगी।

चौहान ने कहा कि इंदौर के राधास्वामी सत्संग न्यास के 2000 बिस्तरों जैसा प्रयोग भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर सहित अन्य महानगरों में भी होगा।

उन्होंने इंदौर में राधा स्वामी सत्संग न्यास के 2000 बिस्तरों को बढ़ाकर 6000 करने की दिशा में निर्देश दिए हैं।

मध्य प्रदेश में रविवार को कोविड-19 महामारी से 66 लोगों की मौत हुई तथा 12,248 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई। नए रोगियों एवं इससे मरने वालों का यह एक दिन का अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। प्रदेश में इस वायरस से अब तक 4557 लोगों की मौत हो गई है, जबकि अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 4,08,080 तक पहुंच गयी है।

एक अप्रैल से 18 अप्रैल तक मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के 1,12,569 नये मामले आये और 571 लोगों की मौत हुई है।

भाषा रावत मनीषा

मनीषा