बेंगलुरु, 25 मई (भाषा) पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा ने मंगलवार को कहा कि लॉकडाउन के कारण बाजार तक पहुंच न होने से ग्रामीण क्षेत्रों में बागवानी उत्पादों की कीमतें घट रही हैं और केंद्र को इस समस्या पर ध्यान देना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में जनता दल (एस) अध्यक्ष ने गांवों में कोविड संक्रमण फैलने, बागवानी उत्पादों की कीमतें घटने और शहरों से गांवों की ओर पलायन के कारण उत्पन्न हुई बेरोजगारी समेत कई मुद्दों का उल्लेख किया।

देवेगौड़ा के अनुसार, इन समस्याओं से सामाजिक अशांति बढ़ने का अंदेशा है।

देवेगौड़ा ने मोदी को लिखे पत्र में कहा, “कोविड ग्रामीण इलाकों में फैल रहा है और यह चिंताजनक समस्या है। बागवानी उत्पादों की घटती कीमत से ग्रामीणों को दोहरी मार का सामना करना पड़ रहा है, जिससे उनकी छोटी लेकिन आत्मनिर्भर आजीविका प्रभावित हो रही है।”

उन्होंने कोलार कृषि उत्पाद विपणन समिति का उदाहरण दिया, जहां किसानों ने अपने टमाटर ‘डंप’ कर दिए क्योंकि उन्हें उसकी सही कीमत नहीं मिल रही थी।

भाषा यश दिलीप

दिलीप