भारतीय टीम ने श्रीलंका को पहले ODI में 80 गेंद रहते 7 विकेट से हरा दिया. सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने महज 24 गेंद में 9 चौके की मदद से 43 रन ठोक दिए, वहीं विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने डेब्यू ODI में 42 गेंद में 8 चौके और 2 छक्के की मदद से 59 रन. दोनों खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन से टीम इंडिया को जीत मिली. हालांकि इन दोनों के प्रदर्शन से कई अन्य भारतीय खिलाड़ियों के पेट में दर्द हुआ होगा. आइए जानते हैं इसकी वजह. 

ये भी पढ़ें: श्रीलंका के बल्लेबाजों ने ऐसा रिकॉर्ड बना दिया, जिसे जल्द भुलाना चाहेंगे भारतीय गेंदबाज!

टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए बहुत अधिक प्रतिस्पर्धा है. इससे भी ज्यादा प्रतिस्पर्धा सलामी बल्लेबाज और विकेटकीपर बल्लेबाज के लिए है. सीमित ओवर क्रिकेट में सलामी बल्लेबाजों की बात करें तो अभी सिर्फ रोहित शर्मा ही ऐसे हैं, जिनकी जगह पक्की है. वहीं विकेटकीपर बल्लेबाजों में ऋषभ पंत टॉप पर बने हुए हैं, लेकिन उनको जोरदार टक्कर मिलने वाली है. 

अपने अग्रेसिव अंदाज की बल्लेबाजी के चलते पृथ्वी शॉ सलामी बल्लेबाजों की लाइन में रोहित शर्मा और शिखर धवन के बाद तीसरे नंबर पर आ गए हैं. इसके चलते वह वर्ल्ड कप टीम में भी जगह बना सकते हैं. हालांकि श्रीलंका के खिलाफ उनकी पारी के बाद कई बल्लेबाज लाइन में पीछे खिसक गए हैं, जोकि इससे बिलकुल भी खुश नहीं होंगे. इन बल्लेबाजों में शुभमन गिल, केएल राहुल, देवदत्त पडिकल, ऋतुराज गायकवाड़ और नितीश राणा के नाम शामिल हैं. 

ये भी पढ़ें: अनुष्का शर्मा और विराट कोहली लंदन की गलियों में दिखे, मस्ती करते फोटो वायरल

विकेटकीपरों की बात करें तो ऋषभ पंत अभी पहला नाम बने हुए हैं. वहीं दूसरे नंबर पर केएल राहुल हैं. ईशान किशन ने अपनी 59 रन की पारी की बदौलत इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर जगह बना ली है. वह केएल राहुल को भी चुनौती दे रहे हैं. अभी तक इंटरनेशनल क्रिकेट में मिले मौकों को उन्होंने शानदार तरीके से भुनाया है. ऐसे में केएल राहुल, संजू सैमसन और ऋतुराज गायकवाड़ जैसे विकेटकीपर बल्लेबाजों के लिए उनसे पहले टीम में जगह बना पाना आसान नहीं होगा.  

दोनों बल्लेबाजों की ख़ास बात ये है कि वह बेख़ौफ़ क्रिकेट खेलते हैं, विराट कोहली को टी20 वर्ल्ड कप में इस खूबी की खास जरूरत पड़ेगी. अगर पृथ्वी शॉ, ईशान किशन और सूर्यकुमार यादव तीनों टी20 वर्ल्ड कप टीम में जगह बना लें तो ये बिलकुल भी चौंकाने वाला नहीं होगा. वेस्टइंडीज ने 2016 में खेला गया पिछला टी20 वर्ल्ड कप भी इसी खूबी के चलते जीता था.  

ये भी पढ़ें:क्रिकेट वर्ल्ड कप में जब-जब भारत से भिड़ा है पाक, कूटा गया है, एक-दो नहीं बल्कि 12 बार