भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे पृथ्वी शॉ ने विजय हजारे ट्रॉफी में बल्लेबाजी के दौरान नया इतिहास रच दिया है. विजय हजारे ट्रॉफी पुडुचेरी के खिलाफ मुंबई की ओर से खेलते हुए पृथ्वी ने दोहरा शतक जड़ा है. उन्होंने 152 गेदों में 227 रनों की कप्तानी पारी खेली. ये एक नया रिकॉर्ड है.

आपको बता दें कि लिस्ट ए मैचों में भारतीय कप्तान का ये सबसे बड़ा स्कोर है. इससे पहले साल 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वीरेंद्र सहवाग ने 219 रन की कप्तानी पारी खेली थी.

यह भी पढ़ेंः पेट्रोल-डीजल के कीमतों पर बड़े ऐलान के बाद तेल की कीमतों के खिलाफ ममता बनर्जी की अनोखी रैली

इसके अलावा विजय हजारे ट्रॉफी में सबसे बड़ा निजी स्कोर केरल के संजू सैमसन के नाम था. सैमसन ने 2019 में गोवा के खिलाफ 212 रन की पारी खेला था. इस रिकॉर्ड को भी 227 रन बनाकर पृथ्वी शॉन ने अपने नाम कर लिया है.

जयपुर में खेले गए मैच में मुंबई की ओर से पुडुचेरी के खिलाफ पृथ्वी शॉ ने 142 गेंद में 227 रन बनाए, जिसमें 27 चौके और 4 छक्के शामिल हैं.

यह भी पढ़ेंः स्टेडियम का नाम बदलने पर NCP ने कहा, 'बीजेपी अब सारी सीमांए पार कर रही'