प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को देश के सभी लोगों के लिए मुफ्त कोरोना वैक्सीन के ऐलान के साथ कहा कि निजी अस्पतालों में पैसे देकर वैक्सीन लगती रहेगी, लेकिन निजी अस्पताल वैक्सीन की निर्धारित कीमत के ऊपर एक डोज पर अधिकतम 150 रुपये ही सर्विस चार्ज ले सकेंगे. 

ये भी पढ़ें: 80 करोड़ लोगों को दीपावली तक मुफ्त राशन मिलेगा: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, "देश में बन रही वैक्सीन में से 25% निजी क्षेत्र के अस्पताल सीधे ले पाएं ये व्यवस्था जारी रहेगी. निजी अस्पताल वैक्सीन की निर्धारित कीमत के ऊपर एक डोज पर मैक्सिमम 150 रुपये ही सर्विस चार्ज ले सकेंगे. इसकी निगरानी करने का काम राज्य सरकारों के पास ही रहेगा."

बता दें कि पीएम मोदी ने ऐलान किया है कि 21 जून से देश में 18 साल के ऊपर के सभी लोगों को कोरोना वायरस वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाएगी. इसके साथ ही वैक्सीन निर्माताओं से कुल वैक्सीन उत्पादन का 75 प्रतिशत हिस्सा भारत सरकार खरीदेगी और बचा हुआ 25 प्रतिशत प्राइवेट अस्पताल खरीद सकते हैं. राज्य सरकारों के ऊपर से कोरोना वैक्सीन खरीदने का भार उठ गया है. 

ये भी पढ़ें:मुफ्त कोरोना वैक्सीन को लेकर क्या-क्या बोले पीएम मोदी, सब जानें

पीएम ने कहा कि देश की किसी भी राज्य सरकार को वैक्सीन पर कुछ भी खर्च नहीं करना होगा. अब तक देश के करोड़ों लोगों को मुफ्त वैक्सीन मिली है. अब 18 वर्ष की आयु के लोग भी इसमें जुड़ जाएंगे. सभी देशवासियों के लिए भारत सरकार ही मुफ्त वैक्सीन उपलब्ध करवाएगी. 

ये भी पढ़ें:मुफ्त वैक्सीन और अनाज: जानें राष्ट्र के नाम संबोधन में क्या-क्या बोले पीएम मोदी