कानपुर एनकाउंटर मामले में विकास दुबे अब पुलिस की गिरफ्त में हैं. लेकिन उसकी गिरफ्तारी पर और यूपी पुलिस कि विफलता पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कई सवाल खड़े किए हैं. इसके साथ ही उन्होंने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि यूपी पुलिस इस मामले में विफल रही है इसलिए इस प्रकरण की सीबीआई जांच होनी चाहिए.

उन्होंने मामले के मुख्य आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी को लेकर दावा किया कि उसका उज्जैन तक पहुंचना मिलीभगत की ओर इशारा करता है.

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘‘ कानपुर के जघन्य हत्याकांड में उप्र सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, उसमें वह पूरी तरह विफल साबित हुई. अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है.’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘ तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं.’’

प्रियंका ने कहा, ‘‘उप्र सरकार को मामले की सीबीआई जांच करा सभी तथ्यों और संरक्षण देने से जुड़े संबंधों को जगज़ाहिर करना चाहिए.’’

गौरतलब है कि कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी और कुख्यात अपराधी विकास दुबे को पुलिस ने गुरुवार सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया. वह उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर पहुंचा था. अब उसे यूपी पुलिस को ट्रांजिट रिमांड पर देने की तैयारी की जा रही है.