भोपाल, 22 मई (भाषा) मध्यप्रदेश सरकार ने प्रोफेसर सचिन चतुर्वेदी को अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान (एआईजीजीपीए) में उपाध्यक्ष के पद पर नियुक्त किया है। प्रो. चतुर्वेदी मध्यप्रदेश राज्य नीति एवं योजना आयोग के पदेन उपाध्यक्ष भी होंगे।

प्रदेश के जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने यहां बताया कि चतुर्वेदी का दर्जा कैबिनेट मंत्री का रहेगा।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एआईजीजीपीए के संचालक मंडल के चेयरमैन हैं।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में राज्य शासन द्वारा संस्थान में महानिदेशक का पद समाप्त कर उपाध्यक्ष का पद सृजित किया गया है। साथ ही संस्थान में दो नए पदों- मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पदों का भी सृजन किया गया है।

मालूम हो कि प्रो.चतुर्वेदी नई दिल्ली स्थित स्वायत्त थिंक-टैंक ‘‘विकासशील देशों के लिए अनुसंधान एवं सूचना प्रणाली (आरआईएस)’’ के महानिदेशक हैं। वह येल विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय मामलों के मैकमिलन सेंटर में एक ग्लोबल जस्टिस फेलो भी थे। उन्हें विकास सहयोग नीतियों और दक्षिण-दक्षिण सहयोग से संबंधित मुद्दों पर विशेषज्ञता हासिल है।

उन्होंने विश्व व्यापार संगठन पर विशेष ध्यान देने के साथ ही व्यापार और नवाचार संबंधों पर भी काम किया है। प्रो. चतुर्वेदी ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में एक अतिथि प्राध्यापक के रूप में अपनी सेवाएं दी हैं। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के खाद्य एवं कृषि संगठन, विश्व बैंक, यूएन-एस्केप, यूनेस्को, ओईसीडी, राष्ट्रमंडल सचिवालय, आईयूसीएन और भारत सरकार के जैव प्रौद्योगिकी विभाग तथा पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, इत्यादि में सलाहकार के रूप में भी अपनी सेवाएँ दी हैं।

प्रो. चतुर्वेदी भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) में सदस्य बोर्ड में भी शामिल रहे हैं।

भाषा दिमो

नेहा

नेहा