लोकसभा में किसान आंदोलन पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह किसानों का आंदोलन नहीं है, यह देश का आंदोलन है. इसके साथ ही मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ये 'हम दो हमारे दो' की सरकार है. राहुल गांधी ने किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों के लिए दो मिनट का मौन रखा और लोकसभा स्पीकर की टिप्पणी के बाद वह सदन से वॉकआउट कर गए.

राहुल गांधी ने कहा, "यह किसानों का आंदोलन नहीं है, यह देश का आंदोलन है. किसान सिर्फ रास्ता दिखा रहा है. एक आवाज़ से पूरा देश 'हम दो हमारे दो' की सरकार के खिलाफ उठने जा रहा है. किसान एक इंच पीछे नहीं हटने वाला, किसान आपको हटा देगा. आपको क़ानून वापस लेना ही होगा." 

इससे पहले राहुल गांधी ने चीन के साथ गतिरोध को लेकर राज्यसभा में गुरुवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के वक्तव्य के बाद केंद्र पर निशाना साधा और सवाल किया कि सरकार जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है. उन्होंने ट्वीट किया, 'पूर्व की यथास्थिति बरकरार नहीं रहने का मतलब कोई शांति नहीं.'

ये भी पढ़ें: किसान आंदोलन: राकेश टिकैत ने बताई आगे की रणनीति, कहा- MSP से कम पर खरीद नहीं होने देंगे

कांग्रेस नेता ने सवाल किया, 'भारत सरकार हमारे जवानों के बलिदान का अपमान क्यों कर रही है और अपना क्षेत्र जाने को क्यों दे रही है?' गौरतलब है कि राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध की स्थिति को लेकर बृहस्पतिवार को राज्यसभा में वक्तव्य दिया. उन्होंने कहा कि पैगोंग झील के उत्तर और दक्षिणी किनारे से सैनिकों के पीछे हटने का समझौता हो गया है.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी से मिलने के बाद बोले नीतीश कुमार- नए कृषि कानून किसानों के हित में, खिलाफ नहीं