नयी दिल्ली, 22 मई (भाषा) भारतीय रेलवे अब तक देश के विभिन्न राज्यों को 884 टैंकरों में लगभग 14,500 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन की आपूर्ति कर चुका है। रेलवे ने शनिवार को इस बारे में बताया।

रेलवे ने बताया कि इस अभियान के अंतर्गत अब तक 224 ऑक्सीजन एक्सप्रेस की यात्रा पूरी हो चुकी है और विभिन्न राज्यों को राहत पहुंचाई गई है। इसके अलावा आठ ऑक्सीजन एक्सप्रेस 35 टैंकरों में 563 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन लेकर निर्धारित राज्यों में पहुंचने के लिए रास्ते में है।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब तक देश के विभिन्न राज्यों में ऑक्सीजन की दैनिक आपूर्ति 800 मीट्रिक टन से अधिक हो गई है।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब तक 13 राज्यों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई हैं। इनमें उत्तराखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश शामिल हैं।

एक बयान में कहा गया कि अब तक महाराष्ट्र में 614 मीट्रिक टन ऑक्सीजन, उत्तर प्रदेश में लगभग 3463 मीट्रिक टन, मध्य प्रदेश में 566 मीट्रिक टन, दिल्ली में 4278 मीट्रिक टन, हरियाणा में 1698 मीट्रिक टन, राजस्थान में 98 मीट्रिक टन, कर्नाटक में 943 मीट्रिक टन, उत्तराखंड में 320 मीट्रिक टन, तमिलनाडु में 769 मीट्रिक टन, आंध्र प्रदेश में 571 मीट्रिक टन, पंजाब में 153 मीट्रिक टन, केरल में 246 मीट्रिक टन और तेलंगाना में 772 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा चुकी है।

रेलवे ने ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए नए मार्गों को भी चिन्हित किया है और आपात स्थिति में राज्यों की तरफ से आने वाली किसी भी तरह की मांग को पूरा करने के लिए तैयार है। तरल चिकित्सा ऑक्सीजन के लिए भारतीय रेलवे को टैंकर राज्य की तरफ से उपलब्ध कराये जाते हैं।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस की शुरुआत 28 दिन पहले 24 अप्रैल को हुई थी और पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस 126 मीट्रिक टन ऑक्सीजन के साथ महाराष्ट्र पहुंची थी।

भारतीय रेलवे की ऑक्सीजन एक्सप्रेस चिकित्सकीय ऑक्सीजन की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए लगातार काम में जुटी है। पश्चिम में हापा, वडोदरा और मुंद्रा से तो पूरब में राऊरकेला, दुर्गापुर, टाटानगर और अंगुल से ऑक्सीजन लेकर उसकी आपूर्ति उत्तराखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में की जा रही है।