भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने गाज़ीपुर बॉर्डर से कहा कि जब तक सरकार से बात नहीं होगी धरना प्रदर्शन समाप्त नहीं होगा. साथ ही टिकैत ने कहा कि जब तक गांव के लोग ट्रैक्टरों से पानी नहीं लाएंगे, तबतक वह पानी नहीं पिएंगे. 

बता दें कि गाजीपुर बॉर्डर पर प्रशासन की ओर से सभी सुविधाएं हटा दी गई हैं.

टिकैत बोले, "जब तक सरकार से बात नहीं होगी धरणा प्रदर्शन समाप्त नहीं होगा. जब तक गांव के लोग ट्रैक्टरों से पानी नहीं लाएंगे, पानी नहीं पीऊंगा. प्रशासन ने पानी हटा दिया, बिजली काट दी, सारी सुविधा हटा दी."

वहीं भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा, "हम धरना तो समाप्त कर देंगे. धरना स्थल (गाज़ीपुर बॉर्डर) पर पानी, बिजली अन्य सुविधाएं बंद कर दिए गए हैं. अब हम वहां क्या करेंगे? उठ ही जाएंगे."

ये भी पढ़ें: लाल किला 31 जनवरी तक के लिए किया गया बंद, जारी किया गया आदेश

ये भी पढ़ें: चिल्ला बॉर्डर 57 दिनों बाद खोला गया, भारतीय किसान यूनियन ने वापस लिया अपना धरना