भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने गुरुवार को भरोसा जताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की नई लहर से आर्थिक वृद्धि में सुधार की रफ्तार प्रभावित नहीं होगी और आरबीआई ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 10.5 प्रतिशत के हालिया वृद्धि लक्ष्य को बरकरार रखा है.

यह भी पढ़ेंः Petrol-Diesel की दाम में फिर कटौती, जानें क्या है नई कीमत

कोविड-19 वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ने और कई शहरों में इसके चलते लॉकडाउन लगाने की आशंकाओं के बीच आरबीआई गवर्नर का आश्वासन महत्वपूर्ण है.

यह भी पढ़ेंः LPG सिलेंडर बुकिंग करने से पहले जान लें ये कैशबैक ऑफर, लगेंगे मात्र 119 रुपये

टाइम्स नेटवर्क इंडिया इकनॉमिक कॉन्क्लेव में दास ने कहा, 'आर्थिक गतिविधियों का पुनरुद्धार निर्बाध रूप से जारी रहना चाहिए और मुझे वित्त वर्ष 2021-22 के लिए आरबीआई के 10.5 प्रतिशत वृद्धि अनुमानों को घटाने की जरूरत नहीं लगती.'

साथ ही उन्होंने कहा कि इस समय किसी को भी पिछले साल जैसे लॉकडाउन की आशंका नहीं है.

यह भी पढ़ेंः Aadhaar और PAN लिंक नहीं किया तो अब लगेगा जुर्माना, नहीं बढ़ने वाली है आखिरी तारीख!