देश में कोरोना संक्रमण का रफ्तार तेजी से फैल रहा है. वहीं, महाराष्ट्र में रोजाना कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड मामले दर्ज किए जा रहे हैं. इसके साथ-साथ देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना रफ्तार पकड़ते नजर आ रहा है. रविवार को महाराष्ट्र और दिल्ली दोनों स्थानों पर रिकॉर्ड मामले दर्ज कि गए हैं.

महाराष्ट्र में रविवार को 40,414 नए कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए. इसके साथ ही एक दिन में 108 कोरोना मरीजों की मौत हुई है.

यह भी पढ़ेंः अमित शाह को डेरेक ओ ब्रायन का जवाब- 'नहीं चलेगा माइंडगेम, यह बंगाल है खेला होबे'

यह भी पढ़ेंः मिर्जापुर वाले 'बबलू पंडित' को हो गया कोरोना, सोशल मीडिया पर बोले, 'कृपया ध्यान दें'

दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस के 1800 से अधिक मरीजों की पुष्टि हुई जो बीते साढ़े तीन महीने में एक दिन में आए सर्वाधिक मामले हैं. वहीं नौ संक्रमितों ने दम तोड़ दिया.

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण के कुल मामले 6,57,715 पहुंच गए हैं जबकि 11,006 लोगों की वायरस के कारण मौत हो चुकी है.

यह भी पढ़ें- होली: 29 मार्च को दिल्ली मेट्रो कब से कबतक चलेगी

विभाग ने बताया कि 6.39 लोग संक्रमण से मुक्त भी हो गए हैं.

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, पिछले साल 13 दिसंबर को एक दिन में 1984 नए मामले आए थे.

यह भी पढ़ेंः उद्धव ठाकरे ने कहा- 'नियमों का उल्लंघन कर रहे तो लॉकडाउन के लिए तैयार रहें'

शहर में शनिवार को 1558, शुक्रवार को 1534, बृहस्पतिवार को 1515, बुधवार को 1254 और मंगलवार को 1101 नए मामले आए थे.

विभाग के मुताबिक, नमूनों के संक्रमित आने की दर बढ़कर 2.35 प्रतिशत पहुंच गई है जो शनिवार को 1.70 फीसदी थी.

यह भी पढ़ें- भारत में 15 अक्टूबर के बाद कोरोना वायरस के सर्वाधिक मामले सामने आए

विभाग ने बुलेटिन में बताया है कि संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या बढ़कर 7545 हो गई है जो शनिवार को 6625 थी.

बुलेटिन के मुताबिक, एक दिन पहले 79,936 नमूनों की जांच की गई है.

दिल्ली में घर में पृथक-वास में रह रहे लोगों की संख्या भी बढ़कर 4237 पहुंच गई है.

दिल्ली में फरवरी में कोरोना वायरस के मामले कम होना शुरू हो गए थे.