राजधानी दिल्ली स्थित प्राचीन लाल किला अब अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) की ओर से आदेश जारी किया गया है. लाल किला पर 26 जनवरी को किसानों के प्रदर्शन के बाद इसे बंद किया गया था और 31 जनवरी को खोलने की बात कही गई थी. लेकिन अब इसे अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है.

26 जनवरी को लाल किले के प्राचीर पर प्रदर्शनकारियों ने प्रतीकात्मक झंडा फहराया था. वहीं, परिसर में तोड़ फोड़ की गई थी. इससे काफी नुकसान हुआ था. इसकी अभी जांच की जा रही है. केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट सौंपने की बात कही थी.

पीछे म्यांमार में तख्तापलट हो रहा था और आगे डांस करती अनजान Aerobics instructor का Video Viral

हालांकि, लाल किले को बंद करने की वजह पुरात्तव सर्वेक्षण विभाग ने कुछ और ही दिया है. ASI की ओर से जारी एक आदेश के अनुसार एवियन इन्फ्लुएंजा को फैलने से रोकने के लिए अगले आदेश तक लाल किला बंद रहेगा.

बीमारी को फैलने से रोकने के लिए जिला प्रशासन द्वारा ASI को पत्र लिखे जाने के बाद से लालकिले को 19 जनवरी से आगंतुकों के लिए बंद कर दिया गया है.

गणतंत्र दिवस के मद्देनजर 22 से 26 जनवरी के बीच भी लाल किला बंद था.

कौन हैं म्यांमार के सेना प्रमुख? जिसने कर दिया देश में तख्तापलट

अगले दिन इसे खोला जाना था लेकिन 26 को किसान आंदोलन से संबंधित हिंसा के बाद एएसआई ने घोषणा की थी कि इसे 31 जनवरी तक बंद कर दिया गया है. एएसआई ने इसके लिए बर्ड फ्लू कारण बताया था.

एक फरवरी को जारी आदेश में कहा गया है कि जिला मजिस्ट्रेट (मध्य)-सह-जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, दिल्ली एनसीटी प्रशासन से प्राप्त आदेश के अनुसार निर्देशित किया गया है कि लाल किला संक्रमित क्षेत्र में आता है इसलिए एवियन इन्फ्लुएंजा को फैलने से रोकने के लिए अगले आदेश तक इसे आमजन के लिए बंद रखा जाएगा.

CBSE Datesheet 2021: 10वीं-12वीं के एग्जाम की डेटशीट जारी हुई, जानें परीक्षा से जुड़ी छोटी से छोटी बात

(इनपुट पीटीआई से भी)