मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में बस संचालकों एवं उससे जुड़े लोगों की परेशानियों के दृष्टिगत यात्री बसों पर देय मासिक वाहनकर को 1 अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि तक पूर्णतः माफ कर दिया है. साथ ही यात्री बसों के संचालन की स्थिति पुनः सामान्य रूप से हो सके इसको ध्यान में रखते हुए माह सितंबर 2020 के देय मासिक वाहनकर में 50 प्रतिशत की छूट एवं वाहनकर जमा करने की तिथि को 30 सितम्बर 2020 तक बढ़ा दिया है.

सरकार के बस ऑपरेटर्स की टैक्स की मांग काे मानने के बाद संचालक बस चलाने पर राजी हाे गए हैं. इंदौर-भोपाल के अलावा छिंदवाड़ा सहित प्रदेश के अन्य जिलों के लिए एआईसीटीएसएल की बसों का संचालन शनिवार से शुरू हो रहा है.

इंदौर में शुरू होगी आई बस

कलेक्टर की अध्यक्षता में संपन्न हुई बैठक में तय किया गया कि इंदौर में पहले बीआरटीएस पर आई बस शुरू की जाएगी. इसके बाद सिटी बस का संचालन शुरू किया जायेगा. इसके अलावा बीआरटीएस पर भी आई बसें नजर आएंगी. हालांकि सिटी बसों के चलने के लिए एक सप्ताह का इंतजार और रहेगा. अभी पर्यटन को बंद रखने का कलेक्टर ने निर्णय लिया है.

जबलपुर-इंदौर फिर दौड़ेगी ट्रेन

रेलवे ने भी इंदौर के जबलपुर-इंदौर ट्रेन शुरू करने का निर्णय लिया है. शनिवार को 5 सितंबर को जबलपुर से रात 11.50 बजे रवाना होगी. यह अगले दिन सुबह 9.55 बजे इंदौर पहुंचेगी. वहीं 6 सितंबर को इंदौर से शाम 7.30 बजे रवाना होगी. यह सुबह 5.35 बजे जबलपुर पहुंचेगी. रेलवे इंदौर से जल्द ही इंदौर-मुंबई अवंतिका एक्सप्रेस, इंदौर-हावड़ा शिप्रा एक्सप्रेस, इंदौर-दिल्ली निजामुद्दीन एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन भी करेगा.

वेटिंग के यात्रियों को ट्रेन में बैठने की अनुमति नहीं होगी. रेलवे स्टेशन में यात्रियों को सोशल डिस्टेंस से एंट्री होगी. ऑटोमैटिक मशीन से टिकट के साथ ही तापमान चेक होगा. सर्दी-खांसी, बुखार वालों को यात्रा की अनुमति नहीं होगी. ट्रेन में वेटिंग का टिकट होने पर भी यात्री को बैठने की अनुमति नहीं होगी.