कोलकाता, 28 अप्रैल (भाषा) लोकप्रिय बांग्ला लेखक अनीश देव का निधन कोविड-19 के कारण बुधवार को शहर के एक अस्पताल में हो गया।

परिवार के सूत्रों ने बताया कि देव को जीवनरक्षक प्रणाली पर रखा गया था। वह 70 वर्ष के थे।

उनके परिवार में पत्नी और उनकी बेटी है।

लेखक को कुछ दिन पहले घर पर दिल का दौरा पड़ने के बाद निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उनमें कोविड-19 की पुष्टि हुई थी।

देव ने सुबह सात बजकर 10 मिनट पर दम तोड़ दिया।

महानगर में 1951 में जन्मे देब ने 18 साल की उम्र में लिखना शुरू कर दिया था।

उनकी प्रसिद्ध कृतियों में भविष्यवादी थ्रिलर तीश घंटा शात मिनट, सापेर चोख, जिबोन जखोन फुराय जाए, हाते कलोमे कंप्यूटर, बिज्ञानेर दाशदिगांतो हैं। देब को दुनिया भर के विज्ञान उपन्यासों का बांग्ला में लिप्यंतरण और विज्ञान को प्रसिद्ध करने के लिए भी जाना जाता है।

उन्हें पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा शुरू किए गए विद्यासागर पुरस्कार से 2019 में सम्मानित किया गया था।

भाषा

नेहा शाहिद

शाहिद