नयी दिल्ली, 26 मई (भाषा) राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के एक अधिकारी ने कहा कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल में बचाव अभियान जारी है और दल इन राज्यों में सड़कों को सुचारू रखने के लिए बड़ी संख्या में उखड़े बिजली के खंभों और पेड़ों को हटा रहे हैं।

एनडीआरएफ के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘‘चक्रवाती तूफान यास के आंतरिक ओडिशा में उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे कमजोर होने की संभावना है।’’

उन्होंने कहा कि बल ने दोनों राज्यों में स्थानीय प्रशासन के साथ समन्वय कर हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘बचाव अभियान अभी भी जारी है क्योंकि चक्रवात की चपेट में आने के बाद बड़ी संख्या में पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘टीम संचार लाइनों को चालू रखने के लिए पेड़ों और बिजली के खंभों को सड़कों से हटा रही हैं और यह प्रक्रिया अभी भी जारी है। बचाव दल प्रभावित क्षेत्रों में सामान्य स्थिति लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं।’’

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘चक्रवात के कारण क्षेत्र में बारिश के कारण निचले इलाकों में पानी भर गया है। ओडिशा में भारी बारिश के कारण घर गिरने के बाद एनडीआरएफ ने एक परिवार के तीन सदस्यों को बचाया।’’