आईटी कंपनी HCL टेक्नोलॉजी की नई चेयरपर्सन के रूप में रोशनी नाडर मल्होत्रा ने जिम्मेदारी संभालेंगी. इससे पहले उनके पिता शिव नाडर इस जिम्मेदारी को संभाल रहे थे लेकिन उन्होंने इस पद को छोड़ दिया है. इस बात की जानकारी कंपनी ने दी है.

HCL टेक्नोलॉजीज ने शुक्रवार को बताया कि जून 2020 तिमाही में उसका समेकित शुद्ध लाभ 31.7 प्रतिशत बढ़कर 2,925 करोड़ रुपये रहा. साथ ही कंपनी ने बताया कि शिव नाडर अध्यक्ष पद की भूमिका से हट गए हैं. नाडर की बेटी रोशनी नाडर मल्होत्रा तत्काल प्रभाव से उनकी जगह लेंगी.

कंपनी के एमडी बने रहेंगे शिव नाडर

कंपनी ने बताया कि निदेशक मंडल ने शिव नाडर के स्थान पर उनकी बेटी और कंपनी की गैर-कार्यकारी निदेशक रोशनी नाडर मल्होत्रा को बोर्ड और कंपनी का अध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है. उनकी नियुक्ति 17 जुलाई से प्रभावी है. कंपनी ने बताया कि शिव नाडर ने पद से हटने की इच्छा व्यक्त की थी और वह मुख्य रणनीति अधिकारी के पदनाम के साथ कंपनी के एमडी बने रहेंगे.

कंपनी को मार्च 2020 तिमाही में 4 प्रतिशत का नुकसान

HCL टेक्नोलॉजीज ने शेयर बाजार को बताया कि कंपनी ने अप्रैल-जून 2019 की तिमाही में 2,220 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था. समीक्षाधीन तिमाही में कंपनी की आय 8.6 प्रतिशत बढ़कर 17,841 करोड़ रुपये रही, जो इससे पिछले साल समान तिमाही में 16,425 करोड़ रुपये थी. हालांकि, मार्च 2020 तिमाही के मुकाबले आय में करीब चार प्रतिशत की कमी हुई है.

HCL को 11 महत्वपूर्ण सौदे मिले

HCL टेक्नोलॉजीज के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सी विजयकुमार ने कहा कि इस तिमाही में प्रतिकूल परिस्थितियों का हमारी आय पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा, हालांकि परिचालन मॉडल के लचीलेपन के चलते मार्जिन और नकदी आवक को बनाए रखने में मदद मिली. उन्होंने कहा कि कंपनी के पास पर्याप्त सौदे हैं, और इस अवधि में उसे 11 बेहद महत्वपूर्ण सौदे मिले.

कंपनी ने बताया कि स्थिर मुद्रा के रूप में उसकी आय जून 2020 तिमाही में एक प्रतिशत बढ़ी. HCL टेक्नोलॉजीज को उम्मीद है कि अगली तीन तिमाहियों के दौरान स्थिर मुद्रा के रूप में उसकी आय तिमाही दर तिमाही औसतन 1.5 से 2.5 प्रतिशत के बीच बढ़ेगी.

उन्होंने कहा कि यदि आप सौदों को देखें तो यह मार्च अंत के मुकाबले 40 प्रतिशत अधिक है और वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र में अच्छी संभावनाएं हैं. उन्होंने कहा कि इन सौदों की मदद से आने वाली तिमाहियों में वृद्धि की रफ्तार बनी रहेगी.

विजयकुमार ने कहा कि जीवन विज्ञान और तकनीक, दो ऐसे क्षेत्र हैं, जहां कंपनी की वृद्धि जारी है. एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने प्रति शेयर दो रुपये के लाभांश की घोषणा की है।

कंपनी के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी वर्रे अप्पा राव ने कहा कि कंपनी ने इस तिमाही के दौरान नियुक्तियां जारी रखी है, लेकिन वह वित्त वर्ष 2020-21 में वेतन बढ़ोतरी की योजना नहीं बना रही है. राव ने बताया कि इस समय कंपनी के लगभग 96 प्रतिशत कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं.