राजस्थान में जारी राजनीतिक रस्साकशी व विधायकों को प्रलोभन दिए जाने के आरोपों के बीच कांग्रेस ने एक ऑडियो क्लिप का हवाला देते हुए पहली बार केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर सीधा हमला बोला है. साथ ही कांग्रेस ने सचिन पायलट से विधायकों की सूची बीजेपी को देने के मामले पर सफाई देने को कहा है. 

पार्टी ने आरोप लगाया है कि शेखावत राज्य में कांग्रेस सरकार को गिराने की साजिश में शामिल हैं और भाजपा को उन्हें पद से बर्खास्त करना चाहिए.

पार्टी ने अपने बागी विधायकों के खिलाफ भी कड़ा रुख अपनाते हुए विश्वेंद्र सिंह व भंवरलाल शर्मा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है.

शेखावत के खिलाफ पद के दुरुपयोग की जांच हो: कांग्रेस 

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘हमारी मांग है कि प्रथमदृष्टया राजस्थान कांग्रेस सरकार गिराने की साजिश में कथित रूप से शामिल केंद्रीय कैबिनेट मंत्री गजेंद्र शेखावत के खिलाफ पुलिस के विशेष कार्यबल एसओजी द्वारा प्राथमिकी दर्ज की जाए, पूरी जांच हो और अगर पद का दुरुपयोग कर जांच प्रभावित करने का अंदेशा हो (जैसा प्रथम दृष्टि से प्रतीत होता है), तो वॉरंट लेकर शेखावत की फौरन गिरफ्तारी की जाए.’’

उन्होंने कहा, ‘‘विधायक भंवर लाल शर्मा व भाजपा नेता संजय जैन के खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई हो.’’

पायलट BJP को विधायकों की सूची देने पर स्पष्टता दें: कांग्रेस 

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘यह भी जांच हो कि ऑडियो में नामित व्यक्तियों के अलावा क्या किसी और व्यक्ति या विधायक द्वारा सरकार गिराने या निष्ठा बदलने के लिए पैसों का लेन-देन हुआ है. सचिन पायलट भी आगे आकर ‘विधायकों की सूची’ भाजपा को देने के बारे अपनी स्थिति स्पष्ट करें.’’

वायरल ऑडियो टेप में बीजेपी की साजिश कैद: कांग्रेस 

मीडिया में बृहस्पतिवार शाम सामने आए एक कथित ऑडियो टेप का हवाला देते हुए सुरजेवाला ने कहा कल शाम दो सनसनीखेज व चौंकाने वाले ऑडियो टेप मीडिया के माध्यम से सामने आए. उन्होंने कहा, ‘‘इन ऑडियो टेप से कथित तौर पर केंद्रीय कैबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, कांग्रेस विधायक भंवर लाल शर्मा व भाजपा नेता संजय जैन की बातचीत सामने आई है. इस तथाकथित बातचीत से पैसों की सौदेबाजी व विधायकों की निष्ठा बदलवाकर राजस्थान की कांग्रेस सरकार गिराने की मंशा व साजिश साफ है. यह लोकतंत्र के इतिहास का काला अध्याय है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘राजस्थान की आठ करोड़ जनता के ‘जनमत के चीरहरण’ व ‘प्रजातंत्र के अपहरण’ की घिनौनी साजिश एक बार फिर कोरोना वायरस महामारी के बीचोंबीच भाजपा व मोदी सरकार द्वारा की जा रही है. आए दिन षड्यंत्र के सबूत सामने आ रहे हैं.’’

कांग्रेस ने कहा- BJP ने विधायकों की मंडी लगा दी 

कांग्रेस नेता के अनुसार, ‘‘विधायकों की खरीद-फरोख्त की मंडी लगाकर राजस्थान की कांग्रेस सरकार गिराने की साजिश का भंडाफोड़ हो गया है. अब जांच हो, दोषियों को सजा मिले और दूध का दूध, पानी का पानी हो जाए.’’

उल्लेखनीय है कि जिस कथित ऑडियो टेप का हवाला सुरजेवाला ने दिया उसे भाजपा व विधायक भंवर लाल शर्मा पहले ही खारिज कर चुके हैं. शर्मा ने इसे फर्जी बताया.

इसी बीच कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी केंद्रीय मंत्री शेखावत को उनके पद से बर्खास्त करने की मांग की.