मुंबई पुलिस ने शनिवार को बताया कि साकीनाका रेप केस की 34 वर्षीय पीड़िता का मुंबई के सिटी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया है. मुंबई के साकीनाका इलाके में एक खड़े टेम्पो के अंदर बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया था. 

प्रारंभिक जांच के अनुसार, महिला के साथ बलात्कार किया गया था और उसके निजी अंगों में लोहे की रॉड से हमला किया गया था, पुलिस ने कहा कि यह घटना सड़क किनारे खड़े एक टेंपो के अंदर हुई थी. आरोपी ने पीड़िता पर चाकू से भी हमला किया था. 

पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में चोटें आई थीं और घटना में काफी खून बह गया था. एक अधिकारी के अनुसार, जब उसे अस्पताल लाया गया था तब वह गंभीर अवस्था में थी और शुक्रवार से राजावाड़ी अस्पताल में जिंदा रहने के लिए संघर्ष कर रही थी.

पूर्व सीएम देवेंद्र फडनवीस ने की फांसी की मांग 

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडनवीस ने कहा, "साकीनाका की घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. ये मानवता को कालिख पोतने वाली है. तुरंत फास्ट ट्रैक कोर्ट तैयार किया जाए. आरोपियों को फांसी की सजा ही होनी चाहिए. पिछले 1 महीने में राज्य में बलात्कार, सामूहिक बलात्कार की घटनाएं बहुत बढ़ रही हैं." 

पूर्व सीएम ने आगे कहा, "पिछले 2 साल से पुलिस में हस्तक्षेप चल रहा है. राज्य कैडर के कई बड़े अफसरों को छोड़कर पोस्ट डाउनग्रेड करके उनसे जूनियर अफसरों को उस पोस्ट पर लिया गया है. इससे अनुशासित फोर्स में अनुशासनहीनता तैयार होती है. उसका फायदा समाज विरोधी तत्वों को होता है जो दिखाई पड़ रहा है."

यह भी पढ़ें:तेलुगू एक्टर साई धर्म तेज हुए दुर्घटना का शिकार, गंभीर रूप से घायल, अस्पताल में भर्ती

पीड़िता के निधन के बाद सरकार का बयान 

मुंबई के साकीनाका रेप मामले पर महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने कहा, "बहुत दुखद है कि महिला नहीं रही. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. सरकार जितनी जल्दी हो सके चार्जशीट दाखिल करेगी. प्रयास रहेगा कि सरकार फास्ट ट्रैक पर मामला ले जाए. निश्चित तौर पर सजा मिलेगी ताकि लोगों में डर पैदा हो."

एक अधिकारी ने बताया कि घटना के कुछ ही घंटों के भीतर आरोपी मोहन चौहान (45) को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने बताया कि शुक्रवार तड़के पुलिस कंट्रोल रूम में एक फोन आया कि खैरानी रोड पर एक व्यक्ति एक महिला की पिटाई कर रहा है.

पुलिस ने कहा कि इलाके के सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई. जिसके बाद पुलिस ने वीडियो में टेम्पो से निकलते पाए गए शख्स को संदिग्ध मानते हुए गिरफ्तार किया. पुलिस ने बाद में मोहन चौहान (45) को गिरफ्तार कर लिया और उसके खिलाफ मामला दर्ज किया गया.

यह भी पढ़ें: दिल्ली NCR में भारी बारिश, सड़कों पर भरा पानी, पारा 24 डिग्री तक लुढ़का