गुरु पुर्णिमा के मौके पर लोग अपने गुरुओं का आशीर्वाद लेते हैं. 5 जुलाई यानी आज संजय दत्त का एक ट्वीट वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने अपने माता-पिता की फोटो शेयर किया है. उन्होंने इसे शेयर करते हुए लिखा है कि आज वो मेरे साथ नहीं हैं, लेकिन उनका आशीर्वाद हमेशा मेरे साथ रहेगा. इस ट्वीट में उन्होंने अपने माता-पिता को ही पहला गुरु बताया है.

संजय ने ट्वीट किया है कि भले ही आज मेरे माता-पिता मेरे साथ यहां नहीं हैं, लेकिन उनकी सीख और आशीर्वाद हमेशा मेरे साथ रहता है. वे मेरे पहले शिक्षक थे, जिन्होंने जीवन में हर कदम पर मेरा मार्गदर्शन किया. आप सभी को हैप्पी गुरु पूर्णिमा. संजय दत्त के इस ट्वीट पर जमकर रिएक्शन आ रहे हैं.

वर्कफ्रंट की बात करें तो संजय दत्त 'शमशेरा', 'सड़क-2', 'भुज : द प्राइड ऑफ इंडिया' और 'केजीएफ चेप्टर-2' में नजर आएंगे.

बता दें कि गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि इस दिन महाभारत के रचियता वेदव्यास जी का जन्मदिन भी होता है. आषाढ़ पूर्णिमा को ही महर्षि वेद व्यास का जन्म हुआ था. गुरु पूर्णिमा को गुरु की पूजा की जाती है. ये पर्व अपने गुरु को श्रद्धा सुमन अर्पित करने का महापर्व है. गुरुब्रह्मा गुरुर्विष्णु: गुरुदेव महेश्वर: , गुरु साक्षात्परब्रह्म तस्मैश्री गुरुवे नम: .