सौरभ नेत्रवलकर (Saurabh Netravalkar) को अमेरिका (USA) की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम का कप्तान चुना गया है. मुंबई के रहने वाली सौरभ 27 साल के हैं. मध्यम गति के तेज गेंदबाज सौरभ ने कॉर्नेल विश्वविद्यालय में कंप्यूटर विज्ञान की पढ़ाई करने के लिए क्रिकेट को छोड़ दिया था. सौरभ, भारत के लिए अंडर-19 वर्ल्ड कप खेल चुके हैं. उन्होंने 2010 अंडर-19 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए सबसे ज्यादा 9 विकेट लिए थे.

यह भी पढ़ें: ENGvIND: विराट कोहली के सिर पर जुनून सवार है, चौथे टेस्ट की प्लेइंग XI में करेंगे 3 बदलाव!

छह फुट लंबे बाएं हाथ के सीमर सौरभ ने साल 2010 में टीम इंडिया के लिए अंडर-19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन किया था. उन्होंने इंग्लैंड के कप्तान जो रूट और पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद को भी अपना शिकार बनाया था. इसके तीन साल बाद नेत्रवलकर ने मुंबई की तरफ से खेलते हुए कर्नाटक के खिलाफ अपना एकमात्र रणजी मैच खेला जिसमें उन्होंने तीन विकेट हासिल किए.

बावजूद इसके नेत्रवलकर को अपना फ्यूचर सिक्योर नहीं लग रहा था. उन्होंने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, "मैंने क्रिकेट को दो साल का पूरा समय दिया, लेकिन मुझे लगा कि मैं इसे नेक्ट लेवल तक नहीं ले जा पा रहा हूं." मुंबई में सरदार पटेल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करने के बाद सौरभ ने जीआरई (ग्रैजुएट रिकॉर्ड एक्जामिनेशन) और टीओईएफएल (टेस्ट ऑफ इंग्लिश एज ए फॉरेन लैंग्वेज) की परीक्षा दी और 2015 में मास्टर के लिए कॉर्नेल चले गए. इस दौरान एक बार फिर उनकी रूचि क्रिकेट की तरफ चली गई.

यह भी पढ़ें: स्टुअर्ट बिन्नी के संन्यास पर वाइफ मयंती लैंगर ने ऐसे किया रिएक्ट, लोगों को गलतफहमी हो गई

एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में ओरेकल में नौकरी करने के बाद भी, नेत्रवलकर ने अपने जुनून को बनाए रखा. सौरभ वीकेंड के दौरान क्रिकेट खेलने के लिए सैन फ्रांसिस्को से लॉस एंजिल्स के लिए छह घंटे की ड्राइविंग करते हैं. उन्होंने बताया, "शुक्रवार को मैं एक साथी खिलाड़ी के साथ ऑफिस से थोड़ा जल्दी निकल जाता था और ड्राइव करके LA जाता था. फिर हम शनिवार को LA में 50 ओवर का क्रिकेट मैच खेलते हैं. इसके बाद हम रात में वापस ड्राइव करके, रविवार को सैन फ्रांसिस्को में 50 ओवर का क्रिकेट मैच खेलते हैं. जिसके बाद हम नौकरी पर वापस पहुंच जाते हैं. मैंने काफी मेहनत की जिस पर चयनकर्ताओं का ध्यान गया. मुझे इस जनवरी टीम में चुना गया."

बता दें कि अमेरिका में क्रिकेट तेजी से बढ़ रहा है. ICC के आंकड़ों के अनुसार, क्रिकेट अमेरिका के 48 राज्यों में 400 से अधिक लीग, 6000 टीमों और 200,000 से अधिक कंटेस्टटेंट के साथ खेला जाता है. इस गेम की फैन फॉलोइंग 22 मिलियन से 36 मिलियन के बीच है. राष्ट्रीय टीम ज्यादातर वेस्टइंडीज, भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ियों का मिश्रण है. इससे पहले महाराष्ट्र के सुशील नाडकर्णी और हैदराबाद के इब्राहिम खलील भी यूएसए की कप्तानी कर चुके हैं. 

यह भी पढ़ें: Paralympics 2020: शूटर सिंहराज अधाना ने भारत को दिलाया 8वां मेडल, कांस्य पदक जीता