महाराष्ट्र की स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने शनिवार को कहा कि राज्य के स्कूलों में 9 वीं से 12 वीं कक्षाओं के छात्रों के लिए स्कूल 23 नवंबर से फिर खुल जाएंगे.

गायकवाड़ ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा आयोजित एक वीडियो कांफ्रेंस में यह घोषणा की.

ठाकरे ने कहा कि 9वीं से 12वीं की कक्षाएं कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों के साथ दिवाली के बाद फिर से खुलनी चाहिए.

मुख्यमंत्री ने आगाह किया कि दुनिया में अन्य जगह की स्थिति को देखते हुए कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर की आशंका बनी हुयी है, इसलिए प्रशासन को सतर्क रहना चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘‘हमें दिवाली के बाद अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है. स्कूलों में पृथकवास केंद्रों को बंद नहीं किया जा सकता. स्थानीय प्रशासन कक्षाओं के लिए वैकल्पिक स्थानों के बारे में निर्णय ले सकता है. स्कूलों की साफ-सफाई, शिक्षकों की कोरोना वायरस जांच और अन्य सावधानियां बहुत जरूरी हैं.’’

ठाकरे ने कहा कि जो छात्र बीमार हैं या जिनके परिवार के सदस्य बीमार हैं, उन्हें स्कूल नहीं भेजा जाना चाहिए.

गायकवाड़ ने कहा कि सभी शिक्षकों की 17 से 22 नवंबर के बीच आरटी-पीसीआर कोरोन वायरस जांच करायी जाएगी. उन्होंने कहा, 'स्कूल 23 नवंबर को पुन: खुलेंगे और छात्रों की प्रवेश के समय थर्मल जांच की जाएगी.’’

उन्होंने कहा कि हर बेंच पर केवल एक छात्र को बैठाया जाएगा.