भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन और उनकी पत्नी आयशा मुखर्जी ने 9 साल की शादी के बाद तलाक ले लिया है. आयशा की शिखर के साथ उनकी ये दूसरी शादी थी. आयशा और शिखर का साथ में एक बेटा है, जिसका नाम जोरावर है. शिखर धवन की तरफ से अभी तक तलाक की ऑफिशियल पुष्टि नहीं की गई है. लेकिन आयशा ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक इमोशनल पोस्ट के जरिए इसकी जानकारी दी है.

शिखर धवन और आयशा मुखर्जी की मुलाकात

शिखर धवन और आयशा मुखर्जी की फेसबुक के जरिए एक-दूसरे से पहचान हुई थी. एक और एंगल यह भी है कि दोनों को भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने मिलवाया था. भारतीय क्रिकेट टीम के ऑफ स्पीनर हरभजन सिंह के फेसबुक प्रोफाइल में लगी तस्वीर को देखकर धवान ने आयशा को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा था. धीरे-धीरे शिखर और आयशा के बीच बात शुरू हुई और पूरा मामला शादी तक पहुंच गया. 

यह भी पढ़ें:शादी के 9 साल के बाद Shikhar Dawan पत्नी से हुए अलग, आयशा मुखर्जी ने बताई वजह

क्रिकेटर शिखर धवन और आयशा मुखर्जी ने साल 2012 में भारतीय संस्कृति के अनुसार सात फेरे लिए थे. कपल का एक बेटा भी है, जिसका नाम जोरावर है. बीते दिन आयशा ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक इमोशनल पोस्ट के जरिए दूसरी बार तलाक होने की सूचना साझा की. तलाक की घोषणा के बाद उन्होंने एक और पोस्ट शेयर किया जिसमें उन्होंने एक सवाल किया आपके तलाक के बाद, क्या आपके दोस्तों ने आपका साथ छोड़ दिया? इसके बाद उन्होंने समाज में तलाक होने पर महिलाओं को कैसा अनुभव होता इसपर बात की.

आयशा की मां ब्रिटिश हैं

आयशा के पिता बंगाली हैं और उनकी मां ब्रिटीश है. उनके माता-पिता भारत में ही मिले थे लेकिन फिर ऑस्ट्रेलिया में जाकर बस गए थे. आयशा का जन्म तो हिंदुस्तान में हुआ था लेकिन कुछ दिनों बाद ही आयशा ऑस्ट्रेलिया चली गई थी. फिर उनकी शिक्षा भी ऑस्ट्रेलिया में ही हुई. इस तरह उनके पास भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों की नागरिकता है.

आयशा ने हाल ही में अपने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में धवन से तलाक का जिक्र किया. ये पोस्ट बताती है कि दोनों के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा था. शायद दोनों अब पहली की तरह साथ खुश नहीं रहते थे. यहां तक कि एक दूसरे को सोशल मीडिया पर भी अनफॉलो कर चुके थे.

आयशा, मेलबर्न में बॉक्सर रह चुकी हैं. धवन से शादी से पहले आयशा की दो बेटियां थीं. धवन आखिरी बार जुलाई में श्रीलंका के खिलाफ मैदान पर दिखे थे.  धवन ने श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया का नेतृत्व किया जहां भारत ने एकदिवसीय श्रृंखला 2-1 से जीती और T20 श्रृंखला 1-2 से गंवाई.

यह भी पढ़ें: गांगुली ने 'कोहली ब्रिगेड' को बताया दुनिया की बेस्ट टीम, नेहरा बोले- यहां आप गलत हैं 'दादा'

यह भी पढ़ें: गावस्कर ने अश्विन के संन्यास पर दिया बड़ा बयान, कहा- ENG के खिलाफ 5वां टेस्ट भी नहीं खेले तो…