मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर गृहमंत्री अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाए हैं. लोगों की मांग उठी की महाराष्ट्र के गृहमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए लेकिन उनके बचाव में शिवसेना नेता संजय राउत उतर आए हैं. उन्होंने साफ शब्दों में कहा है कि आरोपी तो सभी होते हैं तो क्या हर किसी को पद से हटाया जाए?

ANI के मुताबिक, शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, 'अगर राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रमुख (शरद पवार) ने तय किया है कि अनिल देशमुख के ऊपर जो आरोप लगे हैं, उनमें तथ्य नहीं है और उनकी जांच होनी चाहिए तो इसमें गलत क्या है? आरोप सभी नेताओं के ऊपर लगते रहे हैं. सबका इस्तीफा लेकर बैठे तो सरकार चलाना मुश्किल हो जाएगा.' इससे पहले महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार और NCP प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल रविवार को पार्टी अध्यक्ष शरद पवार के साथ दिल्ली में बैठक की.

यह भी पढ़ें- अनिल देशमुख पर लगे आरोपों से संकट में महाराष्ट्र सरकार, शरद पवार से दिल्ली में मिलेंगे ये दो नेता

बता दें, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को शनिवार को लिखे पत्र में सिंह ने आरोप लगाया है कि अनिल देशमुख, पुलिस अधिकारियों को बार और होटल से प्रतिमाह 100 करोड़ रुपये वसूली के लिए कहते थे. NCP सदस्य और राज्य के गृह मंत्री देशमुख ने इन आरोपों का खंडन किया है.

ये भी पढ़ें: गृहमंत्री पर आरोप वाली चिट्ठी की सत्यता पर बोले परमबीर सिंह- CM ठाकरे को मेरे ही ईमेल से पत्र गया

ये भी पढ़ें-'मस्जिद में गाते थे पिता', प्रियंका चोपड़ा के इस बयान पर ट्विटर पर लोगों ने कर दिया ट्रोल