देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जारी है और वैक्सीनेशन का काम भी तेजी से चल रहा है. जनवरी से लेकर अब तक तीन चरणों में टीकाकरण अभियान चलाया गया जिसमें पहले 60 की उम्र के ऊपर और 45 की उम्र के बाद वाले बीमार लोगों को टीका लगा, फिर 45 की उम्र के बाद सभी लोगों को टीका लगना शुरू हुआ और इस समय 18-44 की उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है. मगर इसमें सवाल ये है कि क्या गर्भवती महिलाओं को कोरोना का टीका लगाया जाना चाहिए, इसपर उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने एक बयान दिया है. 

यह भी पढ़ें- भारत में 24 घंटे में आए कोविड के 1,96,427 नए केस, एक दिन में हुई 3511 मरीजों की मौत

यह भी पढ़ें- टूलकिट केस में बोले कांग्रेस नेता राहुल गांधी: सत्य डरता नहीं

फिलहाल गर्भवती महिलाओं को कोविड वैक्सीन नहीं लगवानी है. उन्हें आइसोलेशन होकर खुद को कोरोना से बचाना है और उन्हें इस दौरान अपना अच्छे से ख्याल रखना है. कई रिपोर्ट्स के मुताबिक, गर्भवती महिलाओं को कोरोना काल में बहुत सेफ्टी के साथ रहना है जिसके लिए वह खुद को हमेशा प्रोटेक्ट रख सकती हैं.

बता दें, देश में वैक्सीनेशन का कार्यक्रम भी जोरों से चल रहा है. पिछले दिनों 18-44 की उम्र के लोगों को वैक्सीन लगना बंद हो गया था लेकिन अब यह 24 मई से फिर चालू हो गया है. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस की 24,30,236 वैक्सीन लगाई गईं, जिसके बाद कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 19,85,38,999 हुआ.

ये भी पढ़ें: Netflix ने जारी किया Money Heist Season 5 का टीजर, जानें रिलीज की तारीख

यह भी पढ़ें- एलोपैथिक दवाओं पर बयान वापस लेने के बाद रामदेव ने IMA से पूछे ये 25 सवाल

यह भी पढ़ें- 'द फैमिली मैन 2' पर बैन लगाने की मांग क्यों हो रही है?

ये भी पढ़ें: 'गुंडा' के इबू हटेला मार्वल की ‘इटर्नल्स’ में, फिल्म में एंजेलिना जोली, 'जॉन स्नो' भी