टीम इंडिया ने पहले ODI में श्रीलंका को 7 विकेट से हराकर तीन मैच की सीरीज की शानदार शुरुआत की है. ये टीम इंडिया की श्रीलंका के खिलाफ 92वीं ODI जीत थी और ये दर्शाता है कि पिछले 15 सालों में भारत ने इस प्रतिद्वंद्विता में किस तरह से अपना दबदबा बना कर रखा है. 

अगर भारतीय टीम 20 जुलाई को श्रीलंका के खिलाफ दूसरे ODI में जीत दर्ज करती है, तो ये उसकी श्रीलंका के खिलाफ लगातार 9वीं द्विपक्षीय सीरीज जीत होगी. जीत का ये सिलसिला 2007 में  शुरू हुआ था, जब श्रीलंका के कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी टीम में मौजूद थे. 

ये भी पढ़ें: ड्रेसिंग रूम में बोलकर आए थे ईशान किशन- पहली गेंद पर छक्का मारूंगा

दूसरे ODI में टीम इंडिया के पास श्रीलंका के खिलाफ 93वां ODI मुकाबला जीतने का मौका होगा. वनडे क्रिकेट में ये किसी भी एक टीम के खिलाफ दूसरी टीम की सर्वाधिक मैच में जीत होगी. शिखर धवन और उनकी टीम के पास ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका भी होगा. पाकिस्तान ने श्रीलंका के खिलाफ और ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 92-92 ODI जीते हैं. दूसरे ODI में जीत के साथ भारत के पास इन दोनों से आगे निकलने का मौका है. अभी एक टीम के खिलाफ सर्वाधिक ODI मैच जीतने का रिकॉर्ड भारत, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के नाम है. 

भारत का न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ भी पॉजिटिव रिकॉर्ड है. भारत ने इन दोनों के खिलाफ 55-55 मैच जीते हैं और कम मैच गंवाए हैं. वहीं भारत का पाकिस्तान (55-73), ऑस्ट्रेलिया (53-80) और साउथ अफ्रीका (35-46) के खिलाफ नेगेटिव रिकॉर्ड है.

ये भी पढ़ें: पृथ्वी शॉ और ईशान किशन के प्रदर्शन से इन भारतीय खिलाड़ियों के पेट में दर्द हो रहा होगा

बता दें कि भारत ने श्रीलंका के खिलाफ ODI सीरीज का पहला मुकाबला 80 गेंद रहते 7 विकेट से जीता था. कप्तान शिखर धवन और डेब्यूटांट ईशान किशन ने अर्धशतकीय पारियां खेली थीं. वहीं क्रुणाल पांड्या ने 10 ओवर में 26 रन देकर एक विकेट चटकाया था. तीसरा ODI 23 जुलाई को और 25 जुलाई से तीन मैच की टी20 सीरीज खेली जानी है.  

ये भी पढ़ें: श्रीलंका के बल्लेबाजों ने ऐसा रिकॉर्ड बना दिया, जिसे जल्द भुलाना चाहेंगे भारतीय गेंदबाज!