उत्तर प्रदेश सरकार ने टोक्यो ओलंपिक में पदक विजेताओं और अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों के लिए लखनऊ के इकाना स्टेडियम में सम्मान समारोह आयोजित किया. इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश सरकार मेजर ध्यानचंद के नाम पर स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी स्थापित करेगी. इस समारोह में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सरकार के मंत्रियों ने हिस्सा लिया. पदक विजेता खिलाड़ी भी मौजूद रहे.  

हर गांव में खेल मैदान, ध्यानचंद के नाम पर यूनिवर्सिटी

लखनऊ में योगी आदित्यनाथ ने कहा, "उत्तर प्रदेश के हर गांव में हम एक खेल मैदान बनाएंगे. उत्तर प्रदेश सरकार मेजर ध्यानचंद के नाम पर स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी स्थापित करेगी. उत्तर प्रदेश सरकार दो खेलों को गोद लेगी और अगले 10 सालों तक उनका वित्त ​पोषण करेगी. इसमें से एक खेल कुश्ती है." 

यह भी पढ़ें: जेवलीन फेंक जीता ओलंपिक मेडल, अब उसे बेच एथलीट ने किया ये नेक काम

यूपी के विजेता खिलाड़ियों को राजपत्रित पदों पर सीधी भर्ती

सीएम योगी ने कहा, "उत्तर प्रदेश सरकार ने ओलंपिक, कॉमनवेल्थ, एशियन गेम्स, विश्व कप या विश्व चैंपियनशिप में उत्तर प्रदेश के विजेता खिलाड़ियों को राजपत्रित पदों पर सीधी भर्ती प्रदान करने और पुलिस में डिप्टी एसपी का पद देने के लिए अपनी सहमति दी है."

योगी आदित्यनाथ ने कहा, "टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले उत्तर प्रदेश के 10 खिलाड़ियों को 25-25 लाख रुपये की पुरस्कार राशि से सम्मानित किया गया है." यूपी सरकार ने दीपक पुनिया को 50 लाख और महिला हॉकी टीम की सभी खिलाड़ियों को 50-50 लाख रुपये की पुरस्कार राशि से सम्मानित किया.  

यह भी पढ़ें: 'हार को मन में बसने मत दो', पीएम मोदी ने रेसलर विनेश फोगाट का मनोबल बढ़ाया, देखें Video

साथ ही यूपी सरकार ने नीरज चोपड़ा को 2 करोड़, रवि दहिया को 1.5 करोड़, पीवी सिंधु को एक करोड़, लवलीना बोरगोहेन को एक करोड़, बजरंग पुनिया को एक करोड़ और पुरुष हॉकी टीम के सभी खिलाड़ियों को एक-एक करोड़ की पुरस्कार राशि से सम्मानित किया. 

यह भी पढ़ें: Video: पीएम मोदी ने नीरज चोपड़ा को सुनाया अटल जी का किस्सा, बजरंग पूनिया की पीठ थपथपाई