देश के दक्षिणी राज्यों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में नाइट कर्फ्यू को सख्त कर दिया है. सरकार ने नाइट कर्फ्यू को सख्ती से पालन कराने के लिए आदेश भी जारी किया है. हालांकि, प्रदेश में कोरोना के मामले काफी कम हैं लेकिन एहतियात को ध्यान में रखते हुए प्रोटोकॉल को कड़ाई से पालन कराने का निर्देश जारी किया गया है.

आदेश के मुताबिक, यूपी पुलिस के जवान अब रात 9 बजे से दुकानों को बंद करवाने के लिए हूटर बजाएंगे और 10 बजे रात तक सभी दुकानों को बंद करवा दिया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः सरकार ने कहा- हम अभी भी कोरोना की दूसरी लहर के बीच में, सिंतबर और अक्टूबर महत्वपूर्ण

मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से निर्देश जारी करते हुए कहा गया है कि, सभी को COVID19 के उचित व्यवहार का पालन करना चाहिए, मास्क का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करना चाहिए. पुलिस को समय से पहले ही हूटर के जरिए चेतावनी जारी करनी चाहिए, ताकि रात 10 बजे तक दुकानें बंद कर दी जाएं. लोग बेवजह सड़कों पर न घूमें.

सीएम योगी ने गुरुवार को कहा कि "एग्रेसिव ट्रेसिंग, टेस्टिंग और त्वरित ट्रीटमेंट की नीति के साथ-साथ तेज टीकाकरण की नीति से उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण नियंत्रित स्थिति में है. प्रदेश में अब तक 07 करोड़ 12 लाख 89 हजार 637 टेस्ट हो चुके हैं. यह देश में किसी एक राज्य द्वारा की गई सर्वाधिक कोविड टेस्टिंग है.

यह भी पढ़ेंः LPG सिलेंडर की सब्सिडी किसको मिलेगी? सरकार ने दिया जवाब

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि, पिछले 24 घंटे में कोविड संक्रमण के 19 नए मामले सामने आए और 22 लोग डिस्चार्ज हुए. सक्रिय मामलों की संख्या 342 है. पिछले 24 घंटे में कोई मृत्यु दर्ज नहीं की गई है. 60 ज़िलों में संक्रमण का कोई नया मामला दर्ज़ नहीं किया गया.

यह भी पढ़ेंः अगर आप काट रहे हैं 50 हजार से ज्यादा का चेक तो जान लें RBI के नियम