मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने AIIMS की रिपोर्ट में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले (Sushant Singh Rajput Case) में हत्या की बात से इनकार किये जाने पर शनिवार को कहा कि मुंबई पुलिस अपनी जांच के नतीजों पर कायम है.

सिंह ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा कि कुछ लोगों ने अपने ''निजी स्वार्थों'' के चलते जांच के बारे में बिना कुछ जाने-समझे मुंबई पुलिस को निशाना बनाया.

गौरतलब है कि एम्स के मेडिकल बोर्ड ने शनिवार को कहा कि राजपूत की मौत आत्महत्या से हुई और यह हत्या का मामला नहीं है.

इस खबर पर सिंह ने कहा कि शहर पुलिस की जांच पेशेवर थी और पोस्टमॉर्टम करने वाले शहर के कूपर अस्पताल के चिकित्सकों ने भी अपना काम बखूबी किया.

पुलिस आयुक्त ने कहा, ''हम सभी AIIMS के इन निष्कर्षों से सहमत हैं.''

बता दें कि CBI को अपनी समग्र चिकित्सा-कानूनी राय में फॉरेंसिक डॉक्टरों की छह सदस्यीय टीम ने 'जहर दिए जाने और गला दबाकर' राजपूत की हत्या की आशंका को खारिज किया है.

फॉरेंसिक मेडिकल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. गुप्ता ने कहा, 'यह फंदे से लटक कर खुदकुशी से हुई मौत का मामला है. हमने केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) को अपनी समग्र रिपोर्ट सौंप दी है.'

फंदे के निशान के अलावा शव पर किसी तरह के जख्म के निशान नहीं थे. हाथापाई और प्रतिरोध के भी किसी तरह के निशान नहीं मिले. हालांकि उन्होंने मामले में अदालती सुनवाई का हवाला देते हुए आगे कुछ भी बताने से इनकार किया.