शुक्रवार (7 मई) की सुबह तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने शपथ ली. इनके साथ ही इनकी कैबिनेट में शामिल हुए 33 मंत्रियों ने भी शपथ ग्रहण किया. इसके बाद मुख्यमंत्री स्टालिन ने तमिलनाडु के सीएम के रूप में कार्यभार संभाल लिया. उन्होंने राज्य के लोगों के लिए 2,000 रुपये की कोविड-19 महामारी राहत राशि, आविन दूध के दाम में कटौती और सरकारी परिवहन बसों में महिलाओं के लिए निशुल्क यात्रा की घोषणा की है.

यह भी पढ़ें- नेशनल अवॉर्ड विनर म्यूजिक कंपोजर वनराज भाटिया का निधन, फरहान अख्तर ने दी श्रद्धांजलि

यह भी पढ़ें- कोविड-19 के खिलाफ विरुष्का ने शुरू किया ये अभियान, Video शेयर करके दी जानकारी

एमके स्टालिन की पार्टी द्रमुक ने 6 अप्रैल को अपने घोषणा पत्र में ये सभी वादे किए थे. खबर के मुताबिक उसमें कहा गया था कि मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद पहला आदेश जारी करते हुए स्टालिन ने निजी अस्पतालों में कोराना वायरस के इलाज को सरकारी बीमा योजना के दायरे में लाने की भी घोषणा की ताकि ऐसे लोगों को राहत मिल सके. ये घोषणाएं महामारी से प्रभावित नागरिकों की सहायता करने के लिए चावल राशन कार्ड धारकों को 4,000 रुपये मुहैया कराने और उनकी आजीविका में मदद करने के पार्टी के वादे की याद दिलाती हैं.

यह भी पढ़ें- कोरोना की लहर: देश में लगातार आए 4 लाख से ज्यादा नए मामले, 24 घंटों में हुई 3915 मौत

इसमें यह भी बताया गया कि, ‘‘इसे लागू करने के लिए मुख्यमंत्री ने मई में 2,000 रुपये की पहली किस्त के तौर पर 4,153.69 करोड़ रुपये की धनराशि मुहैया कराने के आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं जिससे 2,07,67,000 राशन कार्ड धारकों को लाभ मिलेगा.’’ उन्होंने एक अन्य आदेश पर भी हस्ताक्षर करते हुए राज्य द्वारा संचालित आविन के दूध के दाम में तीन रुपये तक की कटौती की. यह आदेश 16 मई से प्रभावी होगा. इसके अलावा महिलाएं शनिवार से राज्य परिवहन निगम द्वारा संचालित सभी बसों में निशुल्क यात्रा कर सकती हैं और सरकार ने इसके लिए सब्सिडी के तौर पर 1,200 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं.

यह भी पढ़ें- राजस्थान में 10 मई से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन, जानिए किन चीजों पर लगा है प्रतिबंध

यह भी पढ़ें- केला खाने के शौकीन हो जाएं सावधान, आपके लिए शुरू हो सकते हैं ये हेल्थ इश्यू