भारत में हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है, ताकि बच्चों और उनके गुरुओं के बीच पवित्र बंधन का सम्मान किया जा सके. वो शिक्षक जो उनके जीवन को कई तरह से प्रभावित करते हैं. यह दिन एक भारतीय दार्शनिक, अकादमिक और राजनेता डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर पड़ता है, जिन्होंने स्वतंत्र भारत के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया. अपनी तमाम उपलब्धियों और योगदानों के बावजूद राधाकृष्णन जीवन भर शिक्षक रहे. उनका मानना था कि सच्चे शिक्षक वे हैं जो हमें अपने लिए सोचने में मदद करते हैं, इसलिए उन्हें देश में सबसे अच्छा दिमाग होना चाहिए. तो, इस अवसर पर, आप भी अपने गुरु का सम्मान करें, जिन्होंने आपकी वास्तविक क्षमता का एहसास करने में आपकी मदद की और उन्होंने आपके लिए जो कुछ भी किया उसके लिए उन्हें धन्यवाद दें. आप अपने शिक्षक को कार्ड बनाकर भी उनके प्रति अपना आभार प्रकट कर सकते हैं. आइए जानते है कैसे

यह भी पढ़े: Happy Teacher's day 2021: जानें हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है?

बुक शेप कार्ड

कभी-कभी सिर्फ एक पेज में दिल की पूरी कहानी बयां करना मुश्किल होता है. इसके लिए आप बुक शेप कार्ड भी ट्राई कर सकते हैं. बाजार में सादे किताब के आकार के कार्ड उपलब्ध हैं. आप बुक शेप कार्ड के हर पन्ने में पुरानी यादों को ताजा कर सकते हैं. साथ ही शिक्षकों को परेशान करने के लिए सॉरी भी लिख सकते हैं. आप ऑनलाइन कार्ड डिजाइन की मदद से कार्ड को सुंदर बना सकते हैं.

यह भी पढ़े: Teacher’s Day 2020: बॉलीवुड की इन 10 फिल्मों ने दी हमें खास शिक्षा

थैंक्स कार्ड

गुरु के बिना ज्ञान की प्राप्ति नहीं होती. इसके लिए अपने शिक्षकों को धन्यवाद कार्ड जरूर दें. हाथ से बने ग्रीटिंग कार्ड बाजार में उपलब्ध हैं. आप चाहें तो घर पर भी ग्रीटिंग कार्ड तैयार कर सकते हैं. इसके लिए आपको एक सादा कार्ड, पेंसिल, रंग और कैंची चाहिए. ऑनलाइन मदद लेकर आप कार्ड पर अपनी पसंद का इमोजी बनाकर धन्यवाद लिख सकते हैं.

यह भी पढ़े: Teacher's Day: गरीब बस्ती में बच्चों की पढ़ाई के लिए शिक्षकों का नायाब IDEA, 'बोलती दीवारों' से हो रही पढ़ाई