भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को वापसी करने में जल्दबाजी से बचने की सलाह देते हुए कहा कि उनकी मेडिकल रिपोर्ट में बताया गया है कि ‘उनके फिर से चोटिल होने का खतरा है’.

यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग के दाौरान रोहित की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाने वाली भारतीय टीम में उनका चयन नहीं हुआ. उन्हें हालांकि आईपीएल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियन्स के लिए नेट अभ्यास करते देखा गया जिसके बाद उनकी फिटनेस को लेकर कयास लगाये जाने लगे.

शास्त्री ने कहा कि रोहित को टीम में शामिल नहीं करने का फैसला चयनकर्ताओं ने उनकी मेडिकल रिपोर्ट को देखने के बाद किया.

उन्होंने कहा, ‘‘ इसकी निगरानी बीसीसीआई की चिकित्सा टीम द्वारा की जा रही है. हम इसमें शामिल नहीं हैं. उन्होंने चयनकर्ताओं को एक रिपोर्ट सौंपी है और वे अपने काम को अच्छे से जानते है.’’

शास्त्री ने ‘टाइम्स नाउ’ से कहा, ‘‘ इस मामले में मेरी कोई भूमिका नहीं है, ना ही मैं चयन प्रक्रिया का हिस्सा हूं. मैं यह जानता हूं कि उनकी मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि उन पर खुद को फिर से चोटिल करने का खतरा है.’’

ऑस्ट्रेलया दौरा 27 नवंबर से शुरु हो रहा है जिसमें तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय और इतने ही एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला के अलावा चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेली जानी है.

शास्त्री ने रोहित को सलाह दी कि वह उस तरह की गलती फिर से ना दोहराये जैसा कि उन्होंने अपने करियर के शुरूआती दिनों में की थी.

भारतीय कोच ने कहा, ‘‘ एक खिलाड़ी के लिए इससे ज्यादा निराशा की बात नहीं हो सकती है कि वह चोटिल हो जाए. कभी-कभी आप जानते हुए भी मैदान पर उतरने की कोशिश करते है और देखते हैं कि आप कितनी जल्दी वापसी कर सकते हैं .’’

बीसीसीआई रोहित की प्रगति की निगरानी कर रहा है और वह आईपीएल प्लेऑफ में मुंबई इंडियंस के लिए खेल सकते हैं.